Monday, September 20, 2021
Homeछत्तीसगढ़पहल : ताकि पर्यावरण बचा रहे... सरकारी स्कूल के बच्चे प्लॉस्टिक बोतल...

पहल : ताकि पर्यावरण बचा रहे… सरकारी स्कूल के बच्चे प्लॉस्टिक बोतल से नहीं लाएंगे पानी

दुर्ग. जिले के पांच सरकारी स्कूलों को प्लास्टिक मुक्त घोषित कर मॉडल बनाया जा रहा है। इन स्कूलों के बच्चे अब प्लास्टिक की चीजें खुद भी इस्तेमाल नहीं करेंगे और लोगों को भी इसके लिए जागरूक करेंगे। विद्यार्थी पानी सहेजने के लिए जन आंदोलन चलाएंगे। भारत सरकार पर्यावरण , वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय द्वारा इको क्लब के माध्यम से जल शक्ति अभियान चलाने का निर्णय लिया है। इस अभियान को अंजाम देने के लिए प्रदेशभर में 100 इको क्लब चिह्नांकित करने के निर्देश मिले हैं जो सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त हों।

1500 विद्यार्थी प्लास्टिक की बोतलों में नहीं लाएंगे पानी 

  1. जिन पांच स्कूलों को सिंगल यूस प्लास्टिक मुक्त घोषित किया गया है वहां के 1500 विद्यार्थी न ही प्लास्टिक की बोतलों में पानी भरकर नहीं लाएंगे और न ही शिक्षक। विद्यार्थी अपने पालकों को भी इस तरह की चीजें इस्तेमाल नहीं करने देंगे। इसके अलावा स्कूल परिसर और आसपास इलाके में जनता के बीच जाकर इसके लिए जागरूक करने का बीड़ा इन स्कूलों के प्राचार्यों को सौंपा गया है।
  2. पौधरोपण कर विद्यार्थी करेंगे उनकी देखभाल

    घोषित स्कूल परिसर में सघन वृक्षारोपण होगा। इन पौधों की देखभाल करने के लिए विद्यार्थियों की अलग-अलग टीम बनेगी। स्कूल के आसपास क्षेत्र में भी पौधे लगाने के लिए लोगों को प्रेरित करना है। इसके अलावा विद्यार्थी अपने शहर और गांवों में जागरूकता रैली निकालेंगे।वहीं लोगों को जागरूक भी करेंगे।

  3. पांच स्कूल हैं सिंगल यूस प्लास्टिक मुक्त घोषित 
    • शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला तितुरडीह दुर्ग
    • शासकीय तिलक कन्या उच्चतर माध्यमिक शाला दुर्ग
    • शासकीय पं. जवाहर लाल नेहरू शाला न्यू खुर्सीपार
    • शासकीय उच्चतर, हाईस्कूल सिपकोना पाटन
    • शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला हाईस्कूल मोरिद पाटन।

जिले के पांच सरकारी स्कूल बनेंगे मॉडल

जिले के पांच सरकारी स्कूलों को सिंगल यूस प्लास्टिक मुक्त घोषित किया गया है। यहां के विद्यार्थी जल संरक्षण व पर्यावरण की दिशा में जनआंदोलन चलाएंगे। – प्रवास सिंह बघेल, जिला शिक्षा अधिकारी

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments