Home देश सोनिया व राहुल को भारतीय टीकों पर भरोसा नहीं, अभी तक नहीं...

सोनिया व राहुल को भारतीय टीकों पर भरोसा नहीं, अभी तक नहीं ली वैक्सीन

0
6

कोरोना टीकाकरण को लेकर मोदी सरकार और विपक्ष के बीच एक दूसरे पर निशाना साधना जारी है। अब संसदीय कार्य मंत्री और भाजपा नेता प्रह्लाद जोशी ने इसे लेकर कांग्रेस को निशाने पर लिया है। उन्होंने मंगलवार को  आरोप लगाया कि सोनिया गांधी और राहुल गांधी ने अभी तक कोरोना टीकाकरण नहीं कराया है। उन्हें भारतीय टीकों पर विश्वास नहीं है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जब हमने जनवरी में टीकाकरण शुरू किया, तो कांग्रेस नेताओं ने वैक्सीन प्रभावकारिता पर सवाल उठाए। अब, वे वैक्सीन ले रहे हैं। जानकारी के अनुसार, सोनिया और राहुल गांधी ने वैक्सीन नहीं ली है। उन्हें भारतीय वैक्सीन पर भरोसा नहीं है।

संसदीय कार्य मंत्री और भाजपा नेता प्रह्लाद जोशी ने मंगलवार को कांग्रेस नेताओं पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि सोनिया गांधी और राहुल गांधी ने अभी तक कोरोना टीकाकरण नहीं कराया है। उन्हें भारतीय टीकों पर विश्वास नहीं है।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को राष्ट्र के नाम एक संबोधन में घोषणा की कि 18 से ऊपर आयु वर्ग के सभी लोगों के लिए अब केंद्र ही वैक्सीन खरीदेगा और मुफ्त में राज्यों को देगा। 21 जून यानी योग दिवस से 18 पार के सभी लोगों का केंद्र की ओर से मुफ्त टीकाकरण होने लगेगा। इस घोषणा के एक दिन बाद प्रह्लाद जोशी ने कांग्रेस पर कोरोना टीकाकरण को लेकर निशाना साधा है। उल्लेखनीय है पहली मई से 18 से 44 की उम्र के लोगों का टीकाकरण शुरू किया गया है। इनके टीकाकरण की जिम्मेदारी राज्यों को दी गई थी। इसके बाद से ही इस पर बेजा राजनीति होने लगी थी। इस बीच केंद्र ने टीकाकरण अभियान का पूरा जिम्मा ले लिया है।

संसद के मानसून सत्र पर प्रल्हाद जोशी का बयान

संसदीय कार्य मंत्री प्रल्हाद जोशी ने मंगलवार को कहा कि सरकार को उम्मीद है कि संसद का मानसून सत्र जुलाई में अपने सामान्य कार्यक्रम के अनुसार शुरू होगा। उऩ्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि जुलाई में संसद का मानसून सत्र अपने सामान्य कार्यक्रम के अनुसार शुरू होगा। हम संसद चलाने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। हम आशा करते हैं कि जुलाई तक सांसदों और संसद कर्मचारियों का टीकाकरण कर दिया जाएगा। कोरोना महामारी के कारण पैदा स्थिति के चलते संसद सत्रों का समय और अवधि प्रभावित हुई है। पिछले साल मानसून सत्र सितंबर में शुरू हुआ था और शीतकालीन सत्र आयोजित नहीं किया गया था।

Live Scores Powered by Cn24news