Tuesday, September 21, 2021
Homeपंजाबपंजाब : संत ढडरियां वालों के धार्मिक दीवान पर तनाव, पुलिस तैनात

पंजाब : संत ढडरियां वालों के धार्मिक दीवान पर तनाव, पुलिस तैनात

संगरूर. पुलिस की कड़ी सुरक्षा में सोमवार को संत रणजीत सिंह ढडरियां वालों का गांव गिदड़ियानी में तीन दिवसीय धार्मिक दीवान शुरू हुआ वहीं, इस समागम दमदमी टकसाल समेत निहंग सिहों के संगठन इसका विरोध कर रहे हैं। उनका आरोप है कि ढडरियां वाले सिखी का गलत प्रचार कर रहे हैं।

ऐसे में ऐलान किया था कि उनका दीवान नहीं लगने दिया जाएगा। इसके चलते सोमवार को निहंग सिंह और दमदमी टकसाल के सदस्य गांव कनकवाल भंगूआ में जमा हो गए। तनाव की स्थिति को देखते हुए गिदड़ियानी और कनकवाल भंगआ में 2 एसपी, 6 डीएसपी और जिले भर से पुलिस बल तैनात कर पूरे क्षेत्र को पुलिस छावनी में तबदील किया गया था।

पुलिस ने विरोध करने पहुंचे सदस्यों को कनकवाल भंगूआ के गुरुद्वारा से बाहर नहीं निकलने दिया। हालांकि, सदस्यों ने गिदडियानी की तरफ बढ़ने का प्रयास किया, पर पुलिस ने रोक दिया। एसपी हरप्रीत संधू ने कहा कि 2 एसपी, 6 डीएसपी समेत जिले भर से पूरी फोर्स को लगाया है। उनका मकसद कानूनी व्यवस्था को बहाल रखना है।

ढडरियावालों ने समागम में लोगों को धर्म की जानकारी दी

कुछ लोग जानबूझ कर विरोध कर रहे, अजनाला ग्रुप को डेरे नजर नहीं आ रहे : संत ढडरियां वाले
संत ढडरियां वालों ने कहा-प्रशासन से आज्ञा लेकर दीवान लगाए हैं पर अजनाला ग्रुप के कुछ लोग नजदीकी कनकवाल भंगूआ में रहते हैं जो विरोध कर रहे हैं। अजनाला खुद गांव में पहुंच चुके हंै व धमकी दे रहा है कि दीवान नहीं होने देंगे। इससे पहले तरनतारन, अमृतसर व गुरदासपुर में भी अजनाला ने विरोध किया।

प्रशासन की अपील पर वहां दीवान रद्द कर दिए थे पर अब अजनाला ग्रुप के कुुछ लोग मालवा में आ गए हैं। उनपर दुष्प्रचार का आरोप लगाया जा रहा है पर अजनाला खुद दुष्प्रचार का हिस्सा हैं। 20 लोग विरोध करने वाले हैं जबकि 20 हजार सुनना चाहते हैं। उन्हें सरेआम मारने की धमकियां दी जा रही हैं। आरोप लगाया कि अजनाला को डेरे नजर नहीं आ रहे।

समागम स्थल के पास पुलिस का भारी बंदोबस्त किया गया

ढडरियां वाले से जातिगत लड़ाई नहीं, वह गुरबाणी का गलत प्रचार कर रहे, इसलिए विरोध : अजनाला

दमदमी टकसाल प्रतिनिधि भाई अमरीक सिंह अजनाला ने कहा कि ढडरियां वालों से उनकी जातिगत लड़ाई नहीं है। वे गुरबाणी का गलत प्रचार कर रहे हैं। सिखी के इतिहास को गलत ढंग से पेश कर रहे हैं, जिसे रोकने की जरूरत है। वह दीवान रोकने को जिला प्रशासन को मांगपत्र तक सौंप चुके हैं, बावजूद पुलिस के साए में दीवान लगाए जा रहे हैं।

आरोप लगाया कि ढडरियां वाले पर सीएम अमरिंदर सिंह और महारानी परनीत कौर का हाथ है। सरकार को इसका खमियाजा भुगतना पड़ेगा। पुलिस दीवान रोकने के लिए जाने नहीं दे रही। वह ढडरियां वाले के गुरबाणी विरुद्ध दीवान का हमेशा विरोध करते रहेंगे। मांग की गई कि प्रशासन तुरंत दीवान को रोके।
सरपंच बोले- प्रशासन से आज्ञा लेकर लगवाया दीवान

गांव गिदड़ियानी के सरपंच हरजिंदर सिंह ने कहा कि गांव के लोग 20 दिन से संत संत ढडरियां वालों के दीवान को लेकर तैयारियां कर रहे हैं। जिला प्रशासन से आज्ञा लेकर दीवान लगाया है। इसमें प्रशासन भी मदद कर रहा है। उन्होंने अजनाला ग्रुप को अपील की थी कि दीवान शांतिपूर्ण संपन्न होने दें पर उन्होंने अपील ठुकरा दी, जिसके बाद पुलिस सुरक्षा ली गई है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments