सूरत : स्कूल-ट्यूशन टीचर के टार्चर से त्रस्त छात्रा 5 वीं मंजिल से कूद गई

0
75

सूरत. अमरोली में कक्षा दसवीं की छात्रा ने पांचवीं मंजिल से कूदकर अपनी जान देने का प्रयास किया। उसे गंभीर अवस्था में अस्पताल में भर्ती किया गया है।  सुसाइड नोट पर उसने इसकी वजह ट्यूशन टीचर द्वारा दी गई प्रताड़ना बताया है। जूना कोसाड़ रोड हरिसिद्धी अपार्टमेंट में रहने वाले नीतिन राठौड़ की 14 साल की बेटी खुशी ने सुसाइड की कोशिश की। तनाव में वह अपने अपार्टमेंट की पांचवीं मंजिल से कूद गई। उसने यह कदम स्कूल-ट्यूशन के शिक्षकों की प्रताड़ना के कारण उठाया। बहरहाल वह गंभीर अवस्था में अस्पताल में भर्ती है।
4 जुलाई की है घटना
4 जुलाई की रात को खुशी ने मां से कहा कि वह नोट बुक लेने जा रही है। इसके बाद वह अपने अपार्टमेंट की पांचवीं मंजिल से कूद गई। इससे वह गंभीर रूप से घायल हो गई। खुशी दसवीं की छात्रा है। वह अमरोली की गौतमी स्कूल में पढ़ती है। पुलिस ने सीढ़ियों से गिर जाने से घायल होने का मामला दर्ज किया है।

पिता का आरोप
खुशी के पिता ने आरोप लगाया है कि खुशी अपने स्कूल के दो टीचर और ट्यूशन के एक टीचर पर प्रता़ड़ित करने का आरोप लगाया है। उसने अपने सुसाइड नोटै में लिखा है कि मम्मी सॉरी, मुझसे अब इस पृथ्वी पर नहीं जिया जा रहा है। मुझे माफ कर दो। 2 जुलाई को मैं आत्महत्या कर रही हूं। स्कूल और ट्यूशन टीचर के कारण मैं यह कदम उठा रही हूं।

लेशन के कारण टार्चर करते हैं टीचर
बेटी को स्कूल शिक्षक लेशन के लिए टार्चर करते हैं। ट्यूशन टीचर भी कहते कि तुम्हें यदि नहीं पढ़ना है, तो हमारी जान लेने क्यों आते हो? कहीं से कूदकर मर जाओ ना। उनके इस तरह के व्यवहार से तंग आकर मेरी बेेटी ने पांचवीं मंजिल से कूदकर आत्महत्या की कोशिश की। नीतिन भाई राठौर, पिता

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here