Sunday, September 19, 2021
Homeराज्यगुजरातशिक्षक तैयारी सर्वेक्षण; सरकार का दावा 70% ने परीक्षा दी

शिक्षक तैयारी सर्वेक्षण; सरकार का दावा 70% ने परीक्षा दी

शिक्षकों का सर्वे करने के लिए शिक्षा सर्वेक्षण के नाम से शुरू किए गए अभियान के बाद लगातार इसका विरोध हो रहा था। मंगलवार काे शिक्षक तैयारी सर्वेक्षण पूरा हुआ। इसका सूरत शहर की नगर प्राथमिक शिक्षा समिति के शिक्षकों ने पूरी तरीके से इसका बहिष्कार कर दिया। उन्होंने इस परीक्षा में भाग भी नहीं लिया। वहीं अधिकारियों का कहना है शिक्षा सर्वेक्षण सफल रहा। उन्होंने कहा कि जिले में लगभग 70% शिक्षकों ने शिक्षा सर्वेक्षण में भाग लिया है।

पूरे राज्य में राज्य सरकार के इस आदेश का लगातार विरोध हो रहा था। राज्य सरकार ने सोमवार काे आदेश जारी करते हुए कहा था कि यह आदेश किसी के लिए अनिवार्य नहीं है। शिक्षक अपनी मर्जी से शामिल हो सकते हैं। हालांकि शिक्षकों ने इसका भरपूर विरोध किया। शिक्षकों का कहना है कि राज्य सरकार ने कहा था कि परीक्षा के बाद वे ट्रेनिंग देना चाहते हैं।

तो राज्य सरकार बिना परीक्षा के ही शिक्षकों को पहले से ट्रेनिंग दे रही है। इसलिए परीक्षा की जरूरत नहीं है। वहीं पिछली बार राज्य सरकार ने शिक्षकों की ट्रिपल-सी की परीक्षा ली थी। बाद में उसे उनके वेतन और प्रमोशन के साथ जाेड़ दिया। इसलिए राज्य सरकार की बातें शिक्षकों को ठीक नहीं लगी। इसकी वजह से शिक्षकों में अविश्वास है।

परीक्षा लेकर शिक्षकों को पढ़ाना सिखाना चाहती थी राज्य सरकार

राज्य सरकार ने शिक्षकों के सर्वेक्षण का निर्णय लिया था। लेकिन इसके पहले तीन बार छात्रों की परीक्षा भी ली जा चुकी है। इसके आधार पर उन्हें पढ़ाई में जो समस्याएं हैं, उनको सुधारने की बात कही गई थी। इसी तरह शिक्षकों का सर्वेक्षण किए जाने का निर्णय लिया गया। इसमें कहा गया कि यदि शिक्षकों को कोई समस्या होगी तो उसमें सुधार किया जाएगा।

7 लाेग परीक्षा में शामिल रहे: शिक्षक

शिक्षकों ने डाटा जारी कर कहा है कि 3959 शिक्षकों में से 3952 शिक्षकों ने इस परीक्षा से दूरी बना ली। मात्र 7 शिक्षकों ने राज्य सरकार के शिक्षा सर्वेक्षण में भाग लिया। वहीं शिक्षा विभाग के अनुसार जिले में कुल 4200 शिक्षकों में से लगभग 3000 शिक्षक इसमें शामिल हुए थे।

सरकार ने बाद में बदल दिया निर्णय

पिछले 1 हफ्ते से शिक्षकों के विरोध के बाद राज्य सरकार ने अपना निर्णय बदल दिया था। राज्य सरकार ने सोमवार को पत्र जारी करते हुए कह दिया था कि इसमें दबाव नहीं बनाया जाएगा। यदि कोई अपनी मर्जी से इस सर्वेक्षण में भाग लेना चाहता है तो वह आ सकता है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments