3 जनवरी से 15-18 साल के टीनएजर्स का वैक्सीनेशन किया जाएगा

0
33

गुजरात, असम व हरियाणा में 3 जनवरी से 15 से 18 साल के बच्चों व किशोरों का  वैक्सीनेशन किया जाएगा। अगले माह कोरोना वैक्सीनेशन के लिए निर्धारित अवधि के दौरान राज्य के स्कूलों व अन्य जगहों पर हेल्थ टीम द्वारा वैक्सीन लगाई जाएगी। असम सरकार द्वारा जारी बयान में कहा गया है, ’15 से 18 साल के बच्चों के लिए वैक्सीनेशन कैंपेन 3 जनवरी 2022 से शुरू होगा। गुजरात के स्वास्थ्य मंत्री ऋषिकेश पटेल (Rushikesh Patel) ने गुरुवार को कहा कि 15-18 वर्ष की उम्र वाले 35 लाख टीनएजर्स को वैक्सीन की खुराक दी जाएगी।

कोविड-19 महामारी से बचाव के लिए 2021 के जनवरी में वैक्सीनेशन की शुरुआत की गई। इसके तहत सबसे पहले बुजुर्गों व फ्रंटलाइन वर्करों को वैक्सीन दी गई। इसके बाद व्यस्कों का भी वैक्सीनेशन हुआ। अब 2022 के जनवरी में किशोर वर्ग के लिए वैक्सीनेशन की शुरुआत हो रही है।

हरियाणा में 3 जनवरी से 15-18 साल के 15.4 लाख टीनएजर्स का वैक्सीनेशन किया जाएगा। वैक्सीनेशन सेंटर पर बच्चों की अलग कतार लगाई जाएगी और उनका वैक्सीनेशन करने के लिए अलग स्टाफ होगा। बच्चों को कोवैक्सीन के ही डोज दिए जाएंगे। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने यह बात कही।

गुजरात सरकार ने इसके लिए स्कूलों में कैंप लगाने का आदेश दे दिया है। 1 जनवरी से इस वैक्सीनेशन ड्राइव के लिए आनलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू हो जाएगा। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, ’15-18 साल के आयुवर्ग में करीब 35 लाख बच्चों की पहचान वैक्सीनेशन के लिए की गई है। इन बच्चों को केवल कोवैक्सीन (Covaxin) की डोज दी जाएगी।’ उन्होंने यह भी कहा,’जो बच्चे स्कूल नहीं जाते हैं उन्हें 8-9 जनवरी को वैक्सीन दी जाएगी। इसके लिए कोविन पोर्टल  पर 1 व 3 जनवरी को रजिस्ट्रेशन शुरू होगा।’

बता दें कि राज्य में कोविड-19 के 1429 एक्टिव केस हैं। इसमें 97 केस ओमिक्रोन के हैं। गुजरात में अब तक कोरोना संक्रमण के कुल 831078 मामले आ चुके वहीं 10118 संक्रमितों की मौत हुई है। गुजरात में महामारी को लेकर जारी दिशानिर्देश व प्रतिबंध आगामी सात जनवरी तक बढ़ा दिए गए हैं। साथ ही नाइट कर्फ्यू रात के 11 बजे से सुबह 6 बजे तक के लिए लगाया गया है।

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, गुरुवार को दर्ज आंकड़े बताते हैं कि प्रदेश में 24 घंटे में कोरोना के 573 नए मामले सामने आए जबकि 102 लोग कोरोना संक्रमण से ठीक हुए हैं। वहीं दो संक्रमितों की मौत हो गई। कोविड-19 महामारी से बचाव के लिए देश भर में 2021 के जनवरी में वैक्सीनेशन की शुरुआत की गई। इसके तहत सबसे पहले बुजुर्गों व फ्रंटलाइन वर्करों को वैक्सीन दी गई। इसके बाद व्यस्कों का भी वैक्सीनेशन हुआ। अब 2022 के जनवरी में किशोर वर्ग के लिए वैक्सीनेशन की शुरुआत हो रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here