Monday, September 20, 2021
Homeहरियाणानाचते-गाते लौट रहे थे कावड़िए, गांव से आधा किलोमीटर पहले ट्रक ने...

नाचते-गाते लौट रहे थे कावड़िए, गांव से आधा किलोमीटर पहले ट्रक ने 10 को कुचला, 3 की मौत, 7 घायल

हिसार। हरिद्वार से बिचपड़ी लौट रहे कांवड़ियों की टोली को सोमवार रात करीब एक बजे बिचपड़ी-सरसौद गांव के बीच पाबड़ा मोड़ पर ट्रक ने कुचल दिया। जिसमें 3 की मौत हो गई और 7 घायल हो गए। घायलों को देर रात शहर के अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती करवाया है।

अचानक तूफान की तरह काल बनकर आया ट्रक और कुचलते हुए निकल गया

  1. डाबड़ा चौक के पास एक निजी अस्पताल में घायलों के साथ पहुंचे हादसे के प्रत्यक्षदर्शी कांवड़िये संदीप ने बताया कि पिछले छह-सात साल से लगातार कांवड़ लेने के लिए हरिद्वार जा रहे हैं। इस बार गांव से करीब 17 कांवड़िए गए थे। हम सभी भोलेनाथ की धुन में थे। नाचते-गाते हुए डाक कांवड़ लेकर बिचपड़ी गांव के करीब पहुंच ही चुके थे। पिकअप गाड़ी के साथ-साथ तीन अलग-अलग बाइक पर कांवड़िये और हेल्पर सवार हो गांव की ओर बढ़ रहे थे। चंडीगढ़-बरवाला रोड पर गांव से करीब आधा किलोमीटर पहले सरसौद-बिचपड़ी मोड़ पर पहुंच चुके थे।
  2. मैं आगे वाली बाइक पर सवार था कि अचानक एक ट्रक तूफान की तरह काल बनकर आया और पीछे आ रहे बाइक सवार कांवड़ियों और हेल्पर को कुचलता हुआ निकल गया। साथियों की चीख-पुकार सुनकर दिल दहल गया था। कुछ समझ नहीं आ रहा था। घटना की सूचना मिलने पर ग्रामीण मदद को पहुंच गए थे। एक-एक करके घायलों को निजी वाहनों की मदद से पहले बरवाला फिर हिसार शहर के विभिन्न अस्पतालों में दाखिल करवाया गया। हादसे में अलग-अलग परिवारों के इकलौते दो चिरागों सहित तीन की मौत हो गई।
  3. मृतकों में 18 वर्षीय राहुल और 28 वर्षीय राज सिंह परिवार के इकलौते चिराग थे। राहुल की तीन बहनें हैं। राज सिंह की एक बहन है जोकि शादीशुदा है। मृतक 21 वर्षीय रोहताश शादीशुदा था जिसकी 2 संतानें हैं। वहीं, घायलों में जितेंद्र भ्याण, प्रदीप शर्मा, गोला, विकास जांगड़ा, दिनेश, सोने भ्याण, सोनू जांगड़ा हैं। इन्हें विभिन्न अस्पतालों में भर्ती करवाया है।
  4. टोल प्लाजा की बजाय यू-टर्न लेकर भाग गया ट्रक ड्राइवर

    तीन कांवड़ियों की मौत के अलावा करीब सात युवाओं के घायल होने के दर्दनाक हादसे में बिचपड़ी गांव में मातम छा गया। ग्रामीण मदद के लिए अस्पतालों में पहुंच गए। मृतक के परिजनों को ढांढस बंधाया, इसके साथ ही घायलों को उपचार के लिए जरूरी हर संभव मदद भी मुहैया करवाई। बरवाला थाना पुलिस ने अस्पताल पहुंचकर प्रत्यक्षदर्शियों से जानकारी जुटाई। इसके अलावा ट्रक कहां लापता हो गया, उसके बारे में पता लगाने के लिए वीटी भी करवाई है। कांवड़ियों का कहना है कि ट्रक रास्ते में टोल प्लाजा से गुजरने की बजाय कुछ रास्ते पर जाने के बाद यू-टर्न कर गया था। वह कहां गया, उसका कुछ पता नहीं है।

  5. डीसी-एसपी के आदेश का नहीं दिखा असर

    डीसी और एसपी ने कांवड़ियों की सुरक्षा के लिए विशेष प्रबंधों का दावा किया था। कहा था कि कांवड़ियों को किसी प्रकार की असुविधा नहीं होने देंगे। सड़क पर वाहनों से सुरक्षा व स्टॉपेज पॉइंट पर पुलिस बल तैनात रहेगा। ऐसे में कांवड़ियों के स्टॉपेज पॉइंट पर पुलिस तैनात दिखी मगर ऑन रोड हाई-वे पर पीसीआर या राइडर कांवड़ियों को सुरक्षित सड़क पार करवाता नहीं दिखा। इसके साथ ही मोबाइल डीजे पर बैन था। इस आदेश की धज्जियां उड़ाई हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments