मामला – कोरोना पॉजिटिव के गर्भ में पल रहे बच्चे की हालत बिगड़ी, डॉक्टर दंपती ने ऑपरेशन किया, अब जच्चा और बच्चा दोनों सुरक्षित

0
44
सागर में बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में कोरोना पॉजिटिव महिला का सीजेरियन ऑपरेशन किया गया।
  • सागर के बीएमसी में कोरोना पॉजिटिव का सीजेरियन सेक्शन ऑपरेशन, बिटिया को जन्म दिया
  • गर्भवती के परिवार में उनकी सास और जेठ पहले से पॉजिटिव थे, इनसे बहू संक्रमित हुई है
सागर में बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में कोरोना पॉजिटिव महिला का सीजेरियन ऑपरेशन किया गया।

सीएन 24

सागर. सागर में भगतसिंह वार्ड निवासी 24 साल की गर्भवती कोरोना पॉजिटिव मिली। उसका प्रसव 8 जून को होना था, लेकिन कोरोना पॉजिटिव होने के कारण जब डॉक्टरों ने गर्भ में पल रहे नवजात की जांच की तो पाया कि बच्चे की धड़कनें कम हो रही हैं। इसके बाद डॉक्टरों ने आनन-फानन में ऑपरेशन करने का निर्णय लिया।

बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज (बीएमसी) के चिकित्सकों ने कोरोना पॉजिटिव मरीज का ऑपरेशन करना बीएमसी के डॉक्टरों के लिए एक बढ़ी चुनौती थी। ऐसे में बीएमसी में पदस्थ डॉक्टर दंपती निश्चेतना विभाग के डॉ. नितिन ठाकुर और गायनी विभाग की डॉ. संयोगिता सहलाम आए और गायनी विभाग की प्रोफेसर डॉ. शिखा पांडे के साथ गर्भवती का ऑपरेशन किया। इसके लिए ऑपरेशन थिएटर को दो से तीन बार सैनिटाइज किया गया। वहीं, उपकरणों के इस्तेमाल भी सावधानी रखी गई। डॉक्टरों के प्रयास से समय रहते नवजात को सुरक्षित बाहर निकाला गया और अब जच्चा और बच्चा दोनों सुरक्षित हैं। ऑपरेशन में स्टाफ नर्स आकांक्षा और नीरज ने भी मदद की।

कोरोना पॉजिटिव मरीज का पहला सीजेरियन 
डॉक्टरों ने कोरोनावायरस के संकट के बावजूद टीम भावना के साथ कार्य करते हुए कल रात बीएमसी का प्रथम कोरोना पॉजिटिव सीजेरियन सेक्शन ऑपरेशन किया। इसमें एक प्यारी बच्ची का जन्म हुआ।

सास और जेठ के बाद गर्भवती बहू भी हुई पॉजिटिव
गर्भवती के परिवार में उनकी 65 वर्षीय सास और 42 वर्षीय जेठ पहले से पॉजिटिव थे, जिनसे 24 वर्षीय बहू संक्रमित हुई है। परिवार के अन्य 7 सदस्य क्वारेंटाइन सेंटर में आइसोलेट किए गए हैं। बताया जा रहा है कि परिवार में कोरोना पॉजिटिव 42 वर्षीय जेठ की कुछ दिन पहले डिंपल पेट्रोल पंप के सामने स्थिति खन्ना अस्पताल में सर्जरी हुई थी, इसके बाद उसे अचानक तेज बुखार की शिकायत हुई और सैंपलिंग के बाद रिपोर्ट पॉजिटिव निकली। अब तक अस्पताल में भर्ती हुए मरीजों की जानकारी नहीं ली गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here