Tuesday, September 28, 2021
Homeकोरोना अपडेटरूस से भारत पहुंची कोविड वैक्‍सीन स्‍पुतनिक-वी की पहली खेप, टीकाकरण में...

रूस से भारत पहुंची कोविड वैक्‍सीन स्‍पुतनिक-वी की पहली खेप, टीकाकरण में मिलेगी बड़ी मदद

देश में कोरोना की दूसरी लहर कहर बरपा रही है। संक्रमितों का दैनिक आंकड़ा चार लाख को पार कर गया है। वहीं सरकार ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई को तेज करते हुए टीकाकरण के तीसरे चरण की शुरुआत की है जिसमें 18 साल से 45 साल की उम्र के लोगों को कोविड वैक्‍सीन लगाने का फैसला किया गया है। हालांकि कई राज्‍य सरकारों की ओर से कोविड वैक्‍सीन की किल्‍लत की शिकायतें की जा रही हैं। इस बीच रूस से कोविड वैक्‍सीन स्‍पुतनिक-वी की पहली खेप भारत पहुंची है।

रूस से कोविड वैक्‍सीन स्‍पुतनिक-वी की पहली खेप भारत पहुंची है। माना जा रहा है कि स्पुतनिक-वी वैक्सीन के भारत आने से कोरोना के खिलाफ जंग में काफी मदद मिलेगी। हाल ही में केंद्र ने इसके आपात इस्‍तेमाल को मंजूरी दी है

माना जा रहा है कि स्पुतनिक-वी वैक्सीन के भारत आने से कोरोना के खिलाफ जंग में काफी मदद मिलेगी। हाल ही में केंद्र ने इसके आपात इस्‍तेमाल को मंजूरी दी है। इस तरह से देश में कोरोना के खिलाफ लड़ाई तीन टीकों कोविशील्ड और कोवैक्सिन के साथ स्पुतनिक-वी की मदद से लड़ी जा रही है। बता दें कि हाल ही में प्रधानमंत्री मोदी ने देश में गहराए कोरोना संकट के मसले पर रूसी राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन से टेलीफोन पर बातचीत की थी। इस बातचीत में रूसी राष्‍ट्रपति पुतिन ने पीएम मोदी को हर संभव मदद का भरोसा दिया था।

पीएमओ की ओर से जारी बयान के मुताबिक पुतिन ने भारत में स्पुतनिक के इस्तेमाल की अनुमित मिलने पर खुशी जताई थी। समाचार एजेंसी एएनआइ ने रूस में भारत के राजदूत बाला वेंकटेश वर्मा (Bala Venkatesh Varma) के हवाले से बताया है कि भारत को मई की शुरुआत में 150,000 से 200,000 तैयार वैक्सीन उपलब्ध होने की उम्मीद है। राजनयिक सूत्रों की मानें तो भारत को आगे भी किश्तों में कोविड वैक्‍सीन स्‍पुतनिक-वी वैक्‍सीन की आपूर्ति जारी रहेगी। जाहिर है कोरोना के खिलाफ जारी लड़ाई में यह एक बड़ा हथियार साबित होगी।

रिपोर्ट में कहा गया है कि अगले महीने तक भारत में स्‍पुतनिक वैक्‍सीन की पांच मिलियन वायल पहुंचने की उम्मीद है। यह मदद ऐसे वक्‍त में सामने आई है जब भारत में 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के एक दिन में अब तक के सर्वाधिक चार लाख से अधिक नए मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही उपचाराधीन मामलों की संख्या अब 32 लाख के पार हो गई है। देश में एक दिन में 4,01,993 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 1,91,64,969 हो गई जबकि 3,523 मौतों के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 2,11,853 हो गई।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments