Tuesday, September 28, 2021
Homeराजस्थानफ्लैट का कब्जा समय पर नहीं, बिल्डर पर 4 लाख का हर्जाना

फ्लैट का कब्जा समय पर नहीं, बिल्डर पर 4 लाख का हर्जाना

जिला उपभोक्ता आयाेग, जयपुर प्रथम ने फ्लैट का कब्जा समय पर नहीं देने पर मैसर्स आस्था बिल्डहोम पर 4.11 लाख रुपए का हर्जाना लगाया है। वहीं फ्लैट के लिए जमा कराई गई 10,10,721 रुपए की राशि भी 12 प्रतिशत वार्षिक ब्याज सहित परिवादिया को लौटाने के लिए कहा है। आयोग के अध्यक्ष भगवानदास अग्रवाल व सदस्य नीलम शर्मा ने यह आदेश संतोष गुप्ता के परिवाद पर दिया।

मामले के अनुसार, परिवादिया ने 7 अप्रैल 2012 को विपक्षी की आवासीय योजना आस्था कोरल रेजंसी, सांगानेर मेें एक फ्लैट बुक कराया था। फ्लैट का कब्जा 18 महीने में देना था। वहीं परिवादिया द्वारा अनुबंध के तहत समय-समय पर बिल्डर को बैंक से लोन लेकर राशि का भुगतान कर दिया। लेकिन तय अवधि के बाद भी बिल्डर ने फ्लैट का कब्जा परिवादिया को नहीं दिया।

जवाब में बिल्डर ने कहा कि बजरी सप्लाई में रुकावट के चलते देरी हुई है और उन्होंने 18 महीने में फ्लैट का कब्जा देने का करार नहीं किया था। आयोग ने दोनों पक्षों की बहस सुनकर कहा कि बिल्डर के सेवादोष के चलते परिवादिया को नौ साल में भी फ्लैट का कब्जा नहीं मिल पाया है और वह इसके उपयोग-उपभोग से वंचित रही है। ऐसे में बिल्डर 4.11 लाख रुपए हर्जाना राशि सहित जमा राशि परिवादिया को वापस लौटाए।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments