Monday, September 27, 2021
Homeहरियाणाहरियाणा : ब्यूटी सैलून में चल रहा था देहव्यापार, गृहमंत्री से शिकायत...

हरियाणा : ब्यूटी सैलून में चल रहा था देहव्यापार, गृहमंत्री से शिकायत के बाद पुलिस ने रेड की; आपत्तिजनक स्थिति में मिले 2 युवक-4 युवतियां

यमुनानगर. यमुनानगर में पुलिस व सीआईए-टू ने एक ब्यूटी सैलून से 4 युवतियों को व 2 युवकों को आपत्तिजनक हालत में पकड़ा है। बताया जाता है कि मामले की शिकायत प्रदेश के गृहमंत्री अनिल विज के पास आई थी। उनके आदेश पर एसपी ने पुलिस की टीम गठित कर कार्रवाई के लिए भेजा। पुलिस ने सभी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है, वहीं इस बात की जांच की जा रही है कि यह सैलून किसके नाम से है और यहां किस तरह से धंधा किया जाता था।

शहर थाना प्रभारी कमलजीत सिंह ने बताया कि गोबिन्दपुरी रोड स्थित अट्रैक्शन ब्यूटी जोन में गलत काम किए जाने के संबंध में जिले के एसपी और प्रदेश के गृह मंत्री अनिल विज को शिकायत की गई थी। उनके आदेश पर सीआईए-2, महिला थाना व शहर पुलिस की संयुक्त टीम ने रेड की तो यहां 4 युवतियों को व 2 युवकों को आपत्तिजनक स्थिति में युवक-युवतियों को पाया। इनकी उम्र 30 से नीचे है। पुलिस अधिकारी के मुताबिक सैलून पहली मंजिल पर था, जिसमें अलग-अलग कैबिन भी बने मिले। आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद अब इस बात की जांच की जा रही है कि यह बिल्डिंग किसकी है और किराये का एग्रीमेंट किसके नाम पर है।

रिसेप्शनिस्ट बोली-मेरा क्या कसूर, रसूखदार लोग भी पहुंचे कार्रवाई रुकवाने
उधर आरोपियों में शामिल एक लड़की पुलिस को बार बार यही कह रही थी कि उसका कोई कसूर नहीं है। वह तो पूरा दिन रिसेप्शन पर बैठती है। हालांकि जांच टीम का तर्क था कि वह गलत काम होते देख रही है तो वह भी अपराधी है। फिर जब उसे कहा गया कि अपने मां-बाप को बुला सकती है तब उसने कहा कि वो आ तो जाएंगे , लेकिन भविष्य में नौकरी नहीं करने देंगे।

इसी तरह अन्य लड़कियों ने भी कार्रवाई न करने की बात कही। वहीं इस मामले में कुछ रसूखदार लोग भी पहुंच गए, जो कार्रवाई न करने की सिफारिश लेकर पहुंचे थे। दूसरी ओर सीआईए-2 के इंचार्ज जयपाल आर्य ने कहा कि यह मामला गृह मंत्री के संज्ञान में था। एसपी की ओर से कार्रवाई के आदेश मिले हैं।

नगर निगम कमिश्नर ने कहा-जुटाई जाएगी जानकारी

इसके अलावा नगर निगम के कमिश्नर श्याम लाल पूनिया ने कहा कि जहां-जहां सैलून खुले हैं, इनकी जांच होगी। ये किस तरह कार्य करते हैं। इनके पास किसी तरह की अनुमति या लाइसेंस है। हमें पता होना चाहिए कि ये लोग किस तरह से कारोबार कर रहे हैं। किस तरह का स्टाफ रखे हुए हैं। ये सब जांच का विषय है। जल्द ही इस दिशा में टीम का गठन किया जाएगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments