Saturday, September 25, 2021
Homeहेल्थमीठा खाने के शौकीनों के लिए चीनी का हेल्दी विकल्प है ये...

मीठा खाने के शौकीनों के लिए चीनी का हेल्दी विकल्प है ये 5 चीजें

मीठा खाने के शौकीनों को यह जानना जरूरी है कि चीनी सेहत के लिए कई तरह से नुकसानदायक है। चीनी में कोई पोषक तत्व नहीं होते हैं और इसे बनाने के लिए रासायनिक प्रक्रिया अपनाई जाती है, जिससे पोषक तत्व नष्ट होते हैं। इसमें केवल कैलोरी रह जाती हैं। इतना ही नहीं शरीर को इसे पचाने में दम लगाना पड़ता है। डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला का कहना है कि चीनी का अधिक सेवन मोटापा, टाइप 2 डायबिटीज, हाईब्लड प्रेशर, दिल की बीमारी, किडनी की बीमारी, अल्जाइमर, डिमेंशिया का खतरा भी बढ़ाता है। इसलिए बेहतर है कि चीनी के विकल्प इस्तेमाल करें। चीनी के ये पांच हेल्दी विकल्प मौजूद हैं।

कोकोनट शुगर 
चीनी का एक सेहतमंद विकल्प कोकोनट शुगर है। यह एक प्राकृतिक स्वीटनर है जो कि नारियल के पेड़ से मिलता है। इसमें पोषक तत्व अधिक होते हैं और मधुमेह के रोगी भी इसे ले सकते हैं। यह सामान्य चीनी से इसलिए बेहतर है, क्योंकि इसमें आयरन, जिंक, पोटैशियम, कैल्शियम भरपूर मात्रा में होते हैं। सामान्य चीनी में फ्रक्टोज अधिक मात्रा में होता है और इससे कोई पोषण नहीं मिलता। कोकोनट शुगर में फैटी एसिड्स भी होते हैं। यह पूरी तरह ऑर्गेनिक है जिसमें कोई केमिकल नहीं होता है।

खजूर
यह एक प्राकृतिक स्वीटनर है जिसे चीनी की जगह आसानी से इस्तेमाल कर सकते हैं। खजूर में विटामिन बी 6, पोटैशियम और कैल्शियम होता है। इसे पीस कर खाया जा सकता है या फिर इसका सीरप बना कर चाय या कॉफी में डाल कर सेवन किया जा सकता है। इसका इस्तेमाल मिल्क शेक, दही, बेकिंग, शुगर फ्री खीर, केक, पुडिंद आदि में चीनी की जगह इस्तेमाल किया जा सकता है।

गुड़ 
चीनी से बेहतर गुड़ है जो कि गन्ने से बना होता है। इसे चीनी की तरह रिफाइनिंग प्रक्रिया से नहीं गुजारा जाता है। इसलिए इसमें मिनरल्स बरकरार रहते हैं। गुड़ के इस्तेमाल से शरीर के अंदर की सफाई भी होती है। पाचन तंत्र अच्छा रहा है। इसमें मौजूद कार्बोहाइड्रेट और फाइबर इसे स्वास्थ्यवर्धक स्वीटनर बनाते हैं।

शहद
चाय, दूध, नीबू पानी आदि में चीनी की जगह शहद का इस्तेमाल किया जा सकता है। चीनी खाने से वजन बढ़ता है, लेकिन शहद वजन को कंट्रोल करता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट, एंटीबैक्टेरियल और एंटीफंगल गुण होते हैं। शहद हीमोग्लोबिन बढ़ाता है और इसके नियमित सेवन से रक्त शुद्ध होता है। एनीमिया भी दूर हो जाती है। इसमें कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, विटामिन ए, बी, सी, आयरन, मैगनीशियम, कैल्शियम, फॉस्फोरस, पोटेशियम, सोडियम आदि गुणकारी तत्व होते हैं। यह कार्बोहाइड्रेट का भी प्राकृतिक स्रोत है, इस वजह से शरीर में शक्ति, स्फूर्ति और ऊर्जा आती है। यह रोगों से लड़ने के लिए शरीर को शक्ति देता है।

मिश्री 
मीठा खाने के शौकीन चीनी की बजाए मिश्री का इस्तेमाल कर सकते हैं। यह खांसी दूर करने का कारगर उपाय है। इसके सेवन से कफ साफ करने में मदद मिलती है। इसके नियमित सेवन से याद्दाश्त बढ़ती है और दिमाग की थकान दूर होती है। यह चीनी का अपरिष्कृत रूप है और इसमें आवश्यक विटामिन, खनिज और एमिनो एसिड होता है। इसमें विटामिन बी 12 अच्छी मात्रा में पाया जाता है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments