Friday, September 17, 2021
Homeव्यापारये शेयर आपको दे सकते हैं कई गुना रिटर्न, एक्सपर्ट से जानिए...

ये शेयर आपको दे सकते हैं कई गुना रिटर्न, एक्सपर्ट से जानिए मोटा मुनाफा पाने की रणनीति

Share Market Tips आगे होने वाले तथाकथित लाभ से अच्छा है कि मेहनत से अर्जित पूंजी की रक्षा की जाए। हमने Crompton Greives में 7 रुपये पर और Subex में 7 रुपये पर एक मोड़ आने का सुझाव दिया था और वे लाभदायक साबित हुए।

एक बार फिर Nifty ने 15000 के स्तर को छुआ। लेकिन यह सप्ताह मेटल शेयरों (metal stocks) में मुनाफावसूली का पहला हफ्ता था। केंद्र सरकार ने धातुओं पर आयात शुल्क (import duty on metals) कम करने का प्रस्ताव रखा, जिसके चलते ट्रेडर्स ने प्रॉफिट बुक किया। हमारे विचार में यह सिर्फ कूल ऑफ है, जो किसी भी मामले में आवश्यक है। हमें नहीं लगता कि आयात शुल्क में कमी से मेटल की स्थिति में कोई बदलाव आएगा। विदेशी कीमतों और भारतीय कीमतों में व्यापक अंतर है।

दूसरा, चीन ने स्टील निर्यात (steel exports) पर 13 फीसद छूट को हटा दिया है, यह कदम चीन से मेटल निर्यात को रोकने और इसका घरेलू खपत में उपयोग करने के लिए किया गया था। चीन शुद्ध आयातक है। शून्य आयात शुल्क होने के बावजूद जापान और कोरिया 54 फीसद स्टील का आयात करते हैं। ये तथ्य भारत को मूल्य निर्धारण के मामले में धातु क्षेत्र में आकर्षक स्थान बनाए रखते हैं और इसलिए धातुओं पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। मेटल शेयरों में तेजी आएगी। हालांकि, शेयरों का चुनाव सावधानी पूर्वक किया जाना चाहिए।

भारत में गिरावट अमेरिका में गिरावट के साथ आई, जहां डाउ (Dow) ने 35000 को पार करने के बाद थोड़ी प्रतिक्रिया दी थी। लेकिन तथ्य यह है कि भारत पिछले ढाई महीनों से 14200 से 15000 के बीच चल हो रहा है, जबकि इसी अवधि में डाउ 33000 से 35000 तक पहुंच गया। इसलिए डाउ से यहां तुलना ठीक नहीं है।

हम सरल शब्दों में कहेंगे कि मौजूदा दौर अर्निंग सीजन है और ऐतिहासिक रूप से हमने इस अवधि के दौरान केवल स्टॉक में उतार-चढ़ाव देखा है। उदाहरण के लिए यूपीएल (UPL) में हमने Q4 परिणाम अनुमानों पर 590 पर खरीदारी की कॉल दी थी। कंपनी ने शानदार आंकड़ों की घोषणा की और यूपीएल ने 760 के स्तर को छुआ। हमें विश्वास है कि SBI, BHARTI और TATA MOTORS  इसी तरह के प्रदर्शन को दोहराएंगे। हमने लार्सन एंड टुब्रो पर भी खरीदारी की कॉल दी थी, बाजार के बाद इस कंपनी ने  शानदार परिणामों की घोषणा की।

खैर, निफ्टी 14700 के आसपास बंद हुआ, लेकिन Sgx में यह 14805 पर बंद हुआ। हम अभी भी बाजार के 15100 के ऊपर बंद होने का इंतजार कर रहे हैं, जो 15900 और 16600 के द्वार खोलेगा। हमारा मानना ​​है कि बाजार ओवरसोल्ड है। निफ्टी ओपन इंट्रेस्ट अभी भी 1.1 करोड़ शेयरों पर है, जो 50 से 60 लाख shorts position को समायोजित करने के बाद है। जहां तक ​​weekly expiry का सवाल है, तो हमने शॉर्ट्स को सिमटते देखा है, अब देखना होगा कि वे monthly expiry में क्या करते हैं।

इस अवधि के दौरान स्मॉल कैप (small caps) नई ऊंचाई पर थे। कई शेयर 52 हफ्तों की ऊंचाई को छू रहे हैं और स्मॉलकैप शेयरों में पर्याप्त भागीदारी भी है। यह एक खतरनाक जगह है और एक व्यवस्थित तंत्र के माध्यम से स्ट्रीट में ऐसी स्टोरीज फॉरवर्ड की जा रही हैं, जिन पर विश्वास कर निवेशक स्टॉक खरीदते हैं। यह एक ऐसा जाल है, जिससे आप सभी को बचना चाहिए। स्मॉल कैप तभी खरीदें, जब fundamentals अच्छे हों, promoters अच्छे हों, कंपनी कैश पॉजिटिव हों और p e earning आकर्षक हो। हम निवेशकों को यह तय करने में मदद करने की कोशिश करते हैं कि कौन-सा स्टॉक अच्छा है और उन्हें किससे बचना चाहिए।

आगे होने वाले तथाकथित लाभ से अच्छा है कि मेहनत से अर्जित पूंजी की रक्षा की जाए। हमने Crompton Greives में 7 रुपये पर और Subex में 7 रुपये पर एक मोड़ आने का सुझाव दिया था और वे लाभदायक साबित हुए। लेकिन हर चमकने वाली चीज सोना नहीं होती, इसलिए आपको बहुत सावधान रहना होगा। Usha Martin और Mukand टर्नअराउंड स्टोरीज हैं और मल्टी बैगर बन सकते हैं। Orient paper, Alok Industries, Bank of Maharashtra, Central Bank, Jk Bank, DVL, RDB Rasayan Vipul Organics, SPIC, Tinplate, Orient Cement, Karur Vaishya Bank और Himadri Chemicals अच्छे शेयर हो सकते हैं।

एफपीआई (Fpi) ने पिछले 1 साल में 38-39 बिलियन डॉलर से अधिक का निवेश किया था और हाल ही में उन्होंने कुछ समय के लिए विराम दिया है। ऐसा हमेशा होता है। पिछले डेटा विश्लेषण से पता चलता है कि 5 से 6 महीने तक खरीदारी जारी रखने के बाद 1 या 2 महीने ऐसे होंगे, जहां प्रवाह नकारात्मक होगा। इसका मतलब यह नहीं है कि वे एग्जिट मोड में हैं। अभी कोई एग्जिट नहीं है। वे बड़ी तस्वीर जानते हैं, जो हम सोच भी नहीं सकते। वहां से वे सोचते हैं कि वे पांच गुना लेकर एग्जिट हो जाएंगे।

हमने पहले ही आंकड़े दे दिए थे कि भारत में और 50 अरब अमेरिकी डॉलर का प्रवाह आएगा। हालांकि, यह सबसे अच्छा समय है, जहां बेयर्स (bears) कोशिश करते हैं और हमला करते हैं। पिछले 75 दिनों से बेयर्स 14000 के स्तर को तोड़ने की बहुत कोशिश कर रहे हैं, लेकिन हर बार असफल रहे। यह 12वीं बार है, जब वे फेल हुए हैं। निफ्टी शॉर्ट का संचयी प्रभाव पहले ही ऊपर बताया जा चुका है।

महंगाई की चिंता, कोरोना और टीकाकरण (vaccination) जैसे मुद्दों का इस्तेमाल विकृति पैदा करने के लिए किया गया। लेकिन ध्यान रहे, अगर हम इसे पढ़ सकते हैं, तो स्मार्ट शक्तिशाली बुल्स (bulls) और एफपीआई भी इसे पढ़ सकते हैं। वे भी जानते हैं कि 15100 के ऊपर क्लोजिंग होने के बाद नई ऊंचाई के लिए दरवाजे खुलेंगे। हम इसे इस तरह कहते हैं कि वे 15000 के करीब शॉर्ट्स बनने की अनुमति दे रहे हैं और इसे 14700-14800 पर वापस ले जाकर एक लॉली पॉप दे रहे हैं।

लेकिन वह दिन दूर नहीं है, जहां हम 15100 से ऊपर की क्लोजिंग देखेंगे और फिर निफ्टी का विस्फोट देखेंगे। सरल शब्दों में समझाएं, तो यदि वे निफ्टी को 15030-15050 पर ला सकते हैं, तो क्या वे इसे 15100 तक नहीं खींच सकते …..? वे कर सकते हैं। वे केवल उच्च 15000 कॉल राइट कर रहे हैं, जिसे हमने वीकली एक्सपायरी के दिन 97 लाख में देखा, जिससे 15000 की दीवार बन गई। इस प्रकार यह नियंत्रित चाल है और वे इसे जल्द ही 15100 के पार ले जाएंगे। यह ऐसा है, जैसे तेंदुआ गति उत्पन्न करने के लिए 2 कदम पीछे हटता है और आसानी से लक्ष्य तक पहुंचने के लिए बल देता है।

जब तक क्यूई (Q E) जारी है, तब तक बड़ी गिरावट का कोई सवाल ही नहीं है। हम पहले ही 15400 से 14000 तक 10 फीसद की गिरावट (correction) देख चुके हैं। इसलिए कोई और गिरावट नहीं होगी। 10 फीसद की ऐसी गिरावट 16600 या 17500 के स्तर से आ सकती है। लेकिन इन दोनों ही परिस्थितियों में 15000 का स्तर अगले दो सालों के लिए नया बॉटम बन जाएगा।

क्यूई तरलता के कारण मुद्रास्फीति में थोड़ी वृद्धि होगी, लेकिन यह तथ्यात्मक है। मानसून और कोरोना के पीक पर स्पष्टता बुल्स के लिए अच्छे कारक हैं। मार्च तिमाही ने यह साबित कर दिया है कि पिछले साल कोरोना ने बड़ी कंपनियों को प्रभावित नहीं किया, तो राज्यवार लॉकडाउन इस साल की कमाई को कैसे प्रभावित कर सकता है। टीकाकरण 18 करोड़ तक पहुंच चुका है और जून अंत तक 30 करोड़ तक आसानी से पहुंच जाएगा। सरकार ने दिसंबर तक 2.2 बिलियन टीकों का रोडमैप दिया है और इसलिए हमारे पास यह विश्वास करने का कारण है कि दिसंबर तक हम पूरी तरह से टीकाकरण कर लेंगे। बाजार यह सब जानता है और निश्चितता से प्यार करता है। बुल्स के लिए ये परफेक्ट पिच है।

संक्षेप में, हम अपने पाठकों और फॉलोअर्स को निवेश करते रहने की सलाह देते हैं। 5 निवेश आइडिया में से 1 समय के साथ निश्चित रूप से मल्टी-बैगर बन जाता है। लेकिन ये सभी शेयर दोगुने हो जाएंगे। आदर्श रणनीति यह है कि दोगुना हो जाने पर स्टॉक में से 50 फीसद बेचें, इससे आपकी लागत जीरो हो जाएगी। तभी आप VIP, CERA, WIMPLAST, AMAR RAJA BATTERY, ORIENTAL AROMATOCS, I G PETRO, PAUSHAK, STYLUM, EVEREST INDUSTEIRS, PFAULDER जैसे शेयरों का आनंद लेंगे। ऐसे और भी कई हैं, जो मल्टी-बैगर बन गए। आपको लार्ज कैप और स्मॉल कैप के बीच ठीक से आवंटन करने की भी आवश्यकता है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments