Tuesday, September 28, 2021
Homeराज्यगुजरातगुजरात : ट्रम्प के लिए थ्री लेयर सिक्योरिटी, 6 हजार स्पेशल गार्ड्स...

गुजरात : ट्रम्प के लिए थ्री लेयर सिक्योरिटी, 6 हजार स्पेशल गार्ड्स तैनात रहेंगे

अहमदाबाद. गुजरात के अहमदाबाद में पीएम नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प थ्री-लेयर हाई सिक्योरिटी कवच के बीच रहेंगे। सबसे करीबी घेरे में होगी यूएस सीक्रेट सर्विस, इसके बाद एसपीजी और क्राइम ब्रांच अहमदाबाद के दस्ते। इस दौरान नमस्ते ट्रम्प के कार्यक्रम की हवाई सुरक्षा सख्त होगी। वहां आसमान में एयरफोर्स के 4 से 5 हेलिकॉप्टर चक्कर लगाएंगे। यह हवाई कवच ट्रम्प के एयरपोर्ट पहुंचने, रोड-शो और समारोह से रवाना होने तक सुपर एक्टिव मोड पर रहेगा।

साबरमती आश्रम जाने का कार्यक्रम हो सकता है रद्द
इसी बीच,यह भी खबर है कि ट्रम्प के साबरमती आश्रम दर्शन का कार्यक्रम रद्द हो सकता है। गुरुवार को इस बारे में अंतिम निर्णय होने के आसार हैं। ट्रम्प के रोड-शो के लिए 25 गाड़ियां आने वाली हैं। कुल 50 गाड़ियों का काफिला रहेगा। अमेरिकी सीक्रेट सर्विस और एसपीजी की बुधवार को हुई बैठक में सुरक्षा इंतजाम को लेकर कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गए।

अमेरिका से अपाचे हेलिकॉप्टर की खरीदी को मंजूरी
सूत्रों के हवाले से खबर है कि पीएम मोदी की अध्यक्षता वाली रक्षा मामलों की कैबिनेट कमिटी ने बुधवार को अमेरिका के साथ नौसेना के लिए बहुउद्देश्यीय हेलिकॉप्टर और अपाचे हेलिकॉप्टर की खरीदी को मंजूरी दे दी है। अब माना जा रहा है कि ट्रम्प की आगामी यात्रा में इसको लेकर करार हो सकता है। वैसे अमेरिका पिछले साल अप्रैल में ही 24 एमएच-60 आर हेलिकॉप्टर भारत को देने की मंजूरी दे चुका है, तब कीमत को लेकर बात नहीं बन सकी थी। यह चॉपर पुराने सी किंग हेलिकॉप्टर की जगह लेंगे, जो नौसेना में 1978 से सेवा दे रहे हैं।

आगरा में 15 किमी का क्षेत्र पूरी तरह से खाली होगा
ट्रम्प दंपती 17वीं सदी के स्मारक ताजमहल को देखने के लिए 24 फरवरी को शाम काे पहुंचेंगे। ट्रम्प का कारवां जहां से गुजरेगा, उसके लिए 15 किमी का सड़क मार्ग पूरी तरह से खाली करा लिया गया है। ट्रम्प इस दूरी को 12 मिनट में तय करेंगे। ट्रम्प की सुरक्षा में एनएसजी से लेकर एटीएस तक के 6000 जवान तैनात रहेंगे। वहीं, ट्रम्प जब अहमदाबाद पहुंचेंगे, तो यह किसी भी अमेरिकी राष्ट्रपति की 15वीं सदी में बनी इस हेरिटेज सिटी की पहली यात्रा होगी।

गुजराती व्यंजन नहीं
ट्रम्प को खमण-ढोकला सहित गुजरात व्यंजन नहीं परोसे जाएंगे। अमेरिकी राष्ट्रपति के खानपान की सामग्री यूएस सीक्रेट सर्विस कमांडों की मौजूदगी में तैयार होती है। खानसामा भी उनके काफिले का हिस्सा होता है।

कोई निजी प्लेन नहीं उतर सकेगा
24 फरवरी तक निजी चार्टर प्लेन को अहमदाबाद एयरपोर्ट पर जगह नहीं मिलेगी। अहमदाबाद आने वाले विमानों को पास के वडोदरा-सूरत और राजस्थान के उदयपुर एयरपोर्ट डायवर्ट किया जाएगा।

अब तक 6 अमेरिकी राष्ट्रपति आ चुके हैं

ट्रम्प से पहले आइसेनहोवर 1959 में, निक्सन 1969 में, जिमी कार्टर 1978 में भारत आए थे। क्लिंटन ने 2000 में, जार्ज बुश ने 2006 में और ओबामा ने 2010 और 2015 में भारत यात्रा की। पिछले 8 महीने में ट्रम्प और मोदी की पांच मुलाकातें हो चुकी हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments