Monday, September 27, 2021
Homeचंडीगढ़पक्के होने के लिए कर्मचारियों का मोहाली में पक्का मोर्चा

पक्के होने के लिए कर्मचारियों का मोहाली में पक्का मोर्चा

रेगुलर किए जाने की मांग को लेकर मोहाली में मनरेगा के तहत काम करने वाले कर्मचारियों ने खाने-पीने का इंतजाम करके पक्का मोर्चा लगा दिया है। हालांकि इससे पहले ये लोग पिछले 5 दिन से यहां विकास भवन के बाहर धरना दे रहे हैं, वहीं रविवार को काली-पीली झंडियां लेकर शहरभर में रोष मार्च निकाला था। सोमवार को इन्होंने इस प्रदर्शन को पक्के धरने में बदल दिया है।

विकास भवन में मनरेगा कर्मचारी लंगर पका रहे हैं।
विकास भवन में मनरेगा कर्मचारी लंगर पका रहे हैं।

यूनियन के अमृतपाल सिंह और अन्य कर्मचारियों ने कहा कि यूनियन की ओर से विकास भवन में पक्का मोर्चा लगा दिया गया है। जब तक मांगें नहीं मान ली जाती, वो यहां से हिलने वाले नहीं हैं। उन्होंने कहा कि ग्रामीण विकास और पंचायत विभाग में नौकरी करने वाले मनरेगा मुलाजिमों की भर्ती 2008 में पारदर्शी तरीके से की गई थी। पिछली सरकार की ओर से पास किए गए ठेका मुलाजिम वेलफेयर एक्ट-2016 के तहत मनरेगा मुलाजिमों की सेवाएं रेगुलर की जा सकती है, पर सरकार की ओर से बार-बार कहा जा रहा है कि इस एक्ट में संशोधन कर नया एक्ट बनाया जा रहा है। साढ़े चार साल से पांच कैबिनेट मंत्रियों की सब-कमेटी एक्ट बनाने में लगी है। सरकार के मंत्रियों व अधिकारियों से कई बार मीटिंग हो चुकी है, लेकिन कोई परिणाम नहीं निकला इसलिए अब धरना दिया जा रहा है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments