Thursday, September 23, 2021
Homeराजस्थान2 माह की बच्ची की दर्दनाक मौत:बीमार होने पर परिवार ने अंधविश्वास...

2 माह की बच्ची की दर्दनाक मौत:बीमार होने पर परिवार ने अंधविश्वास के चलते गर्म सलाखों से दगवाया,

शहर के महात्मा गांधी अस्पताल के शिशु वार्ड में भर्ती एक दो महीने की मासूम बालिका ने की देर रात मौत हो गई। जिसके अंधविश्वास के चलते गर्म सलाखों से दागा गया। बच्ची के बीमार हाेने पर परिजनाें ने उसके पेट पर तीन जगह डाम (गर्म सलाखों से दगवाना) लगवाया था। इससे उसकी तबीयत बिगड़ गई। मंगलवार काे उसकी माैत हो गई। जिसका बुधवार सुबह पोस्टमार्टम कर परिजनों को सौंप दिया गया। गौरतलब है कि इस अस्पताल में पिछले एक महीने में डाम पीड़ित मासूम की माैत का ये दूसरा मामला है।

मासूम के पेट पर गर्म सलाखों से तीन बार दागा गया।

बाल कल्याण समिति के सदस्य फारूख खान पठान ने बताया कि राजसमंद जिले के रेलमगरा क्षेत्र की सपना पुत्री भेरूलाल बगड़िया मात्र दो महीने की थी। जिसे गत 17 अप्रैल काे एमजीएच में भर्ती करवाया गया था। बताया गया कि बच्ची के बीमार हाेने पर परिजनाें ने उसे पेट पर तीन जगह डाम लगवाया था। इससे उसकी तबीयत बिगड़ गई। मंगलवार काे उसकी माैत हो गई।

पठान ने बताया कि लगभग 25 दिन पहले भी आमेट राजसमंद के एक डाम पीड़ित बच्चे की इलाज के दौरान माैत हो गई। उन्हाेंने राजसमंद बाल कल्याण समिति अध्यक्ष कोमल पालीवाल से संपर्क कर रेलमगरा थाना पुलिस को सूचना दी है।

एक दर्जन मामले हर साल आते हैं

भीलवाड़ा जिले में बीमारी दूर करने के नाम पर बच्चाें काे डाम लगाने के करीब एक दर्जन मामले हर साल आते हैं। इनमें भी भाेपाें-तांत्रिक क्रिया करने वालाें की भूमिका रहती है। पुलिस ने ऐसे कई मामलाें में भाेपाें काे गिरफ्तार भी किया है। करीब दाे साल में तांत्रिक क्रिया के नाम पर लाेगाें की जान काे खतरे में डालने वाले 7 भाेपाें पर कानूनी कार्रवाई हुई।

तीन से पांच साल की सजा का प्रावधान

इस मामले का एक पहलू ये भी हैं कि डाम लगाने वाले मामलों में सीधा कोई कानून नहीं होने से ऐसे मामलों में बाल संरक्षण समिति ही बाल प्रताड़ना का मामला पुलिस में दर्ज करवाने के बाद उस पर कार्रवाई करवाती है। बाल प्रताड़ना के मामलों में तीन से पांच साल की सजा का भी प्रावधान है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments