Monday, September 27, 2021
Homeचंडीगढ़CTU कर्मचारियों का दो घंटे चक्का जाम : मैनेजमेंट के गलत फैसलों...

CTU कर्मचारियों का दो घंटे चक्का जाम : मैनेजमेंट के गलत फैसलों और मांगें लागू न करने के विरोध में ISBT-17 में प्रोटेस्ट

मैनेजमेंट के गलत फैसलों और मांगों को लागू ना करने के विरोध में CTU कर्मचारियों ने मंगलवार को ISBT सेक्टर 17 में दो घंटे तक बसों का चक्का जाम किया। यूनियन नेताओं के मुताबिक उन्होंने कई बार मैनेजमेंट के सामने कर्मचारियों की मुश्किलें रखीं पर कोई सुनवाई नहीं हुई। वे बोले- CTU मैनेजमेंट के गलत फैसलों के खिलाफ खड़े होने का यह सही समय है।

नेताओं की मानें तो वीकली रेस्ट के नाम पर और टिकट मशीन का कैश सवेरे शाम की ड्यूटी पूरी होने पर जमा न करने के कारण कंडक्टरों और ड्राइवरों को परेशान किया जा रहा है। यूनियन की शिकायतें और मांगे सुनने के बाद UT प्रशासन की ओर से ADC ने उनकी मांगें सेक्रेटरी ट्रांसपोर्ट को भेजने का भरोसा दिया। इस मौके पर यूनियन नेता प्रधान धर्मेंद्र सिंह राही, वाइस प्रधान चरनजीत सिंह ढींढसा, महासचिव सतिंदर सिंह और वित्त सचिव तेजवीर सिंह सहित कई कर्मचारी मौजूद थे।

ये बोले यूनियन नेता और कर्मचारी

CTU की 417 बसों का फीट पूरा किया जाए और नई 41 HVAC बसों का टेंडर पास किया जाए

किलोमीटर स्कीम पे ली जा रही बिजली बसों के टेंडर को रद्द किया जाए

मृतकों के आश्रितों को नौकरी दी जाए और आउटसोर्स पर काम कर रहे सिक्योरिटी गार्ड व सफाई कर्मचारियों के बढ़े DC रेट तुरंत लागू किए जाएं

आउटसोर्स कर्मचारियों को15 कैजुअल लीव दी जाएं

खाली पड़ीं सेक्शन पोस्ट्स तुरंत भरी जाएं

पिछले तीन साल में डायरेक्टर ट्रांसपोर्ट एक दिन भी CTU में नहीं बैठे

कंडक्टर्स को SI बनाने में आनाकानी की जा रही है

सेक्रेटरी ट्रांसपोर्ट के साथ हुई मीटिंग के एक भी फैसले को लागू नहीं किया गया

लोकल रूट्स के रनिंग टाइम को नहीं बढ़ाया जा रहा

विभाग में काम कर रहे कर्मचारियों का 50 लाख का बीमा और वैक्सीन लगाने का विभाग की ओर से कोई प्रबंध नहीं किया गया है

राजनीतिक दबाव में गलत कर्मचारियों को मन मर्जी स्थान पर लगाया जा रहा है

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments