यूपी : महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों को लेकर CM योगी की सख्ती

0
30

रविवार की देर रात सीएम योगी ने कानून-व्यवस्था को लेकर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की। इस कॉन्फ्रेंसिंग में सीएम योगी ने बेहद सख्त तेवर दिखाते हुए कहा कि राज्य सरकार की अपराध और अपराधियों के प्रति जीरो टॉलरेंस की नीति है। इसका कड़ाई से अनुपालन कराया जाए।इतना ही नही यूपी में महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों को लेकर भी सीएम योगी ने कड़े निर्देश दिए। सीएम योगी ने कहा कि महिलाओं के विरुद्ध अपराध की घटनाओं में सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए। महिलाओं के विरुद्ध अपराध करने वालों को बख्शा नहीं जाना चाहिए।

उत्तर-प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ पिछले कुछ दिनों में हुए वारदातों को लेकर सीएम नाराज दिखे। सीएम ने लखीमपुर के निघासन में दो दलित बहनों की दुष्कर्म के बाद हत्या जैसे कई दुसरे जिलों में हुए महिलाओं के खिलफ हुए अपराध पर अधिकारियों की क्लास भी लगाई। सीएम ने कहा कि महिलाओं और बालिकाओं की सुरक्षा के प्रति पुलिस निरंतर संवेदनशील रहे। सीएम ने कहा कि छोटी-छोटी घटनाओं के प्रति सतर्क दृष्टि बनाकर रखी जाए। ऐसी घटनाओं में त्वरित ढंग से आवश्यक कार्रवाई की जाए, जिससे वह गंभीर रूप ना लेने पाए।महिलाओं के विरुद्ध अपराध की घटनाओं में सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए। महिलाओं के विरुद्ध अपराध करने वालों को बख्शा नहीं जाना चाहिए। पुलिस ऐसे मामलों को ऐसी कार्रवाई करें,जो नजीर बने। कानून-व्यवस्था की स्थिति को निरंतर बेहतर बनाए रखने के लिए पुलिस बल फुट पेट्रोलिंग करे। मुख्यमंत्री ने कहा कि सीनियर अधिकारी खुद इसमें हिस्सा लें। यूपी 112 की PRV लगातार सक्रिय रहे और भ्रमणशील रहे ताकि किसी घटना की सूचना मिलने पर कम से कम समय में पुलिस मौके पर पहुंच सके।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जो लोग सोशल मीडिया के जरिए अराजकता फैलाते हैं उन्हें चिह्नित किया जाए और उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। उन्होंने एंटी रोमियो स्क्वायड को पूरी तरह से सक्रिय करने के निर्देश दिए। कहा कि आगामी त्योहारों को देखते हुए खासकर भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर शोहदों पर नजर रखी जाए और शरारत करने वालों से कड़ाई से पेश आया जाए। उन्होंने त्योहारों के मद्देनजर अधिकारियों को संवेदनशील और सतर्क रहने के निर्देश दिए।सीएम ने कहा कि त्योहारों पर साफ-सफाई के साथ- साथ सुरक्षा-व्यवस्था के पुख्ता प्रबंध किए जाएं। अराजक तत्वों पर नजर रखते हुए उनके खिलाफ निरोधात्मक कार्रवाई की दिए। जनसमस्याओं का समाधान संवेदनशीलता और प्रभावी कार्रवाई के साथ किया जाए। ड्रग माफिया एवं अवैध शराब कारोबार के प्रति निरंतर सख्त कार्रवाई जारी रखी जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here