अमेरिका : स्कूल टीचर को दस साल की सजा, 15 साल की छात्रा को पोर्न वीडियो भेजे थे

0
51

वॉशिंगटन. वर्जिनिया के इस्लामिक स्कूल टीचर को शनिवार को दस साल जेल की सजा सुनाई गई। टीचर ने 15 साल की छात्रा को बातचीत के दौरान सेक्सुअल वीडियो भेजा था। एलेक्जेंड्रिया की फेडरल कोर्ट में टीचर एस. सुलेमान कोकायी (30) पर पिछले साल से मुकदमा चल रहा था। कोकायी पर छात्रा को पोर्नोग्राफिक इमेज भेजने और छात्रा पर दबाव बनाने का आरोप था।

जज ने कहा- यह मामला टिपिकल पोर्नोग्राफी जैसा नहीं

  1. जज एल. ब्रिंकिमा ने आरोपी से कहा- तुम्हारा मामला एक अपवाद है। तुमने इस बच्ची के साथ बेवकूफी भरा व्यवहार किया। तुम्हारा रवैया भी अनुपयुक्त था। हालांकि यह टिपिकल पोर्नोग्राफी केस नहीं है। अन्यथा फेडरल गाइडलाइन के मुताबिक इस अपराध के लिए उम्र कैद की सजा बनती है।
  2. रिपोर्ट के मुताबिक एलेक्जेंड्रिया निवासी कोकायी वॉशिंगटन में यूनिवर्सिटी ऑफ मैरीलैंड के एक कॉलेज में नौकरी करता है। अदालत में उसने अपनी पत्नी, परिवार और दोस्तों से माफी मांगी। उसने कहा- मैंने कई गलतियां कीं। इसका जिम्मेदार कोई और नहीं बल्कि मैं हूं।
  3. इससे पहले पीड़िता की ओर से केस लड़ने वाले वकील ने आरोपी के लिए 25 साल की सजा मांगी थी। वकील ने कहा- आरोपी ने 15 साल की लड़की को इस्लामिक स्टेट के वीडियो भेजे। उसने लड़की की मां और उसके दोस्तों को भी ऐसे ही वीडियो भेजे।
  4. हालांकि जज ब्रिंकिमा ने इस कंटेंट को उम्रकैद की सजा के लायक नहीं माना। उन्होंने दस साल की अनिवार्य सजा के प्रावधान को महत्व दिया। आदेश के मुताबिक कोकायी के जेल से बाहर आने के बाद भी 20 साल तक  निगरानी रखी जाएगी ताकि वो किसी आतंकी संगठन से संपर्क न कर सके।
  5. रिपोर्ट के मुताबिक कोकायी को जिहाद का यह वीडियो उसके सौतेले पिता शेख अब्दुल्ला अल-फैजल ने भेजा था। उस पर न्यूयॉर्क में आतंकी होने के आरोप लग चुके हैं। पुलिस जांच में कोकायी के कनेक्शन ऐसे व्यक्ति के साथ मिले जो गैर-इस्लामिक लोगों की हत्या के लिए उकसाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here