मुजफ्फरनगर : क्रिकेटर सुरेश रैना के फूफा के हत्यारोपी अरेस्ट

0
22

पंजाब के पठानकोट के धारयाल में दो साल पहले पूर्व क्रिकेटर सुरेश रैना के फूफा सहित 3 लोगों की हत्या हुई थी। हत्या और लूटपाट की वारदात में शामिल छयमार गिरोह के बदमाश और उसके साथी को पुलिस ने देर रात हुई मुठभेड़ के बाद दबोच लिया। पुलिस की गोली पैर में लगने से दोनों घायल हो गए। इन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। बदमाशों से अवैध हथियार भी बरामद हुए। 19 अगस्त 2020 की रात को पठानकोट जिले के थारयाल गांव में छयमार गिरोह ने सुरेश रैना के फूफा ठेकेदार अशोक कुमार के घर में डकैती डाली थी। इस दौरान बदमाशों ने अशोक कुमार की हत्या कर दी थी। अशोक के बेटे कौशल ने घायल अवस्था में 31 अगस्त को दम तोड़ दिया था। एक और की मौत हुई थी। जबकि रैना की बुआ और अशोक की पत्नी आशा रानी गंभीर रूप से घायल हुई थीं। घटना के बाद तत्कालीन मुख्यमंत्री पंजाब ने मामले की जांच के लिए IGP बॉर्डर रेंज (अमृतसर) के नेतृत्व में SIT का गठन किया था। इस मामले में SIT ने 15 सितंबर 2020 को तीन संदिग्धों को गिरफ्तार भी किया था।

रैना के फूफा की हत्या के मामले में कई बदमाश वर्षो से वांछित चल रहे थे। SSP विनीत जायसवाल ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली थी कि किदवईनगर क्षेत्र में कुछ बदमाश किसी बड़ी आपराधिक वारदात को अंजाम देने के इरादे से घूम रहे हैं। बताया कि 19 सितंबर को देर रात बताए स्थान पर पुलिस और SOG ने चेकिंग अभियान चलाया। इस दौरान किदवई नगर में गय्यूर के ऑफिस के पास पुलिस चौकी के पीछे दो संदिग्धों को पुलिस ने रुकने को कहा तो उन्होंने फायरिंग कर दी। इसके बाद बचाव में चलाई गई पुलिस की गोली पैर में लगी। दोनों बदमाश घायल हो गए। जिन्हें जिला अस्पताल ले जाया गया। उनके कब्जे से 2 तमंचे और 5 कारतूस, 3 खोखा और एक बाइक बरामद हुई।

SSP विनीत जायसवाल ने बताया कि दोनों बदमाशों की पहचान काका उर्फ गोलू उर्फ शहजान निवासी झुग्गी झोपडी गांव धलापड़ा थाना गंगोह, जनपद सहारनपुर और तालिब उर्फ फैजान उर्फ आसिम निवासी पीपल साना, जनपद मुरादाबाद हाल निवासी बस स्टैण्ड के पास झुग्गी झोपडी पीलानी राजस्थान के रूप में हुई। पूछताछ में काका उर्फ गोलू उर्फ शहजान ने 2020 में पठानकोट में रैना के फूफा की हत्या और उनके घर में डाली गई डकैती की घटना में शामिल होना बताया। बदमाश तभी से फरार चल रहा था। इसके अलावा भी वह लूट, डकैती और हत्या के अन्य मुकदमों में वांछित चल रहा था। दबोचा गया दूसरा बदमाश काका का साथी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here