Thursday, September 16, 2021
Homeहरियाणाछारा के ग्रामीणों ने अपने छोरे को बैठाया पलकों पर

छारा के ग्रामीणों ने अपने छोरे को बैठाया पलकों पर

टोक्यो ओलिंपिक में हिस्सा लेकर पैतृक गांव छारा पहुंचे खिलाड़ी दीपक पूनिया का शनिवार को जोरदार स्वागत किया गया। गांव छारा के ग्रामीणों ने अपने छोरे दीपक पूनिया के स्वागत में यात्रा भी निकाली। ग्रामीणों का कहना है कि दीपक ने ओलंपिक खेलों में हिस्सा लेकर गांव का नाम रोशन किया है। वहीं खिलाड़ी दीपक पूनिया का कहना है कि वे ओलंपिक खेलों में पदक हासिल नहीं कर पाने से दुखी तो हैं। लेकिन यह तो एक शुरुआत है। उन्होंने बताया कि खेल के दौरान उन्हें चोट लग गई थी। 2 महीने आराम करने के बाद वे दोबारा मैदान में उतरेंगे और आगे होने वाले कॉमन वेल्थ गेम्स, वर्ल्ड गेम्स और एशियन गेम्स की तैयारी करेंगे। वहीं दीपक के कोच वीरेंद्र आर्य का कहना है कि दीपक भले ही ओलंपिक से पदक ना लाए हो लेकिन वहां से एक्सपीरियंस जरूर लेकर लौटे हैं। उनका कहना है कि दीपक पूनिया 86 किलोग्राम भार वर्ग कुश्ती में ओलंपिक तक जाने वाले सबसे कम उम्र के खिलाड़ी हैं। आगे आने वाले समय में दीपक देश का नाम जरूर रोशन करेंगे। बता दें कि दीपक पूनिया टोक्यो ओलिंपिक के अपने सेमीफाइनल मुकाबले में आखरी चंद सेकंड में पॉइंट गवां बैठे थे। जिसके चलते वे कांस्य पदक से चूक गए थे। खिलाड़ी को यह पदक नहीं जीत पाने का मलाल तो है। लेकिन हौंसले अब भी बुलंद है और आगे आने वाले समय में दीपक पूनिया अपनी प्रतिभा का लोहा जरूर मनवाएंगे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments