Thursday, September 23, 2021
Homeविश्वअमेरिकी सेना की वापसी के बीच अफगानिस्तान में हिंसा जारी, 8000 से...

अमेरिकी सेना की वापसी के बीच अफगानिस्तान में हिंसा जारी, 8000 से ज्यादा परिवारों को किया गया विस्थापित

अफगान सुरक्षा बलों और तालिबान के बीच चल रहे तनाव के बीच पांच प्रांतों के आठ हजार से ज्यादा परिवारों को विस्थापित किया गया है। टोलोन्यूज ने बताया कि कई परिवार आश्रय, स्वास्थ्य सेवाओं, शिक्षा और सामान्य जीवन के लिए अन्य सुविधाओं की कमी का सामना कर रहे हैं। युद्ध प्रभावित इस देश से अमेरिकी सेना की वापसी शुरू होने के बाद हिंसा बढ़ गई है।

अफगानिस्तान में हाल के हफ्तों में हिंसात्मक घटनाओं में तेजी देखी गई है जिसमें अफगान सुरक्षा बलों और नागरिकों को नुकसान पहुंचा है। इस बीच अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी जारी है और 11 सितंबर तक पूरी हो जाएगी।

अफगानिस्तान में हाल के हफ्तों में हिंसात्मक घटनाओं में तेजी देखी गई है, जिसमें अफगान सुरक्षा बलों और नागरिकों को नुकसान पहुंचा है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले कुछ हफ्तों से बागलान, हेलमंद, कुंदुज, कंधार और लगमन समेत पांच प्रांतों में भारी झड़पें जारी हैं। इस बीच अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी जारी है और 11 सितंबर तक पूरी हो जाएगी।

बागलान प्रांत में शरणार्थियों और प्रत्यावर्तन निदेशालय के प्रमुख शरीफुल्ला शफीक ने कहा, ‘8,500 परिवार विस्थापित हुए हैं। इनमें से 3,500 परिवार हिंसा के ताजा कारण के कारण विस्थापित हुए हैं।’ अफगान सरकार ने विस्थापित परिवारों की जरूरतों को पूरा करने का संकल्प लिया है।

अफगान शरणार्थी और प्रत्यावर्तन मंत्रालय के प्रवक्ता सैयद अब्दुल बासित हैदरी ने कहा, ‘हमने अपने घरों से विस्थापित हुए अपने देशवासियों की मदद करने की योजना बनाई है। हम उनकी जरूरतों को पूरा करने के लिए विदेशी गैर सरकारी संगठनों के साथ काम कर रहे हैं।’

जलरेज जिले पर कब्जा

शनिवार को अफगानिस्तान में हुई हिंसक झड़प में पांच पुलिसकर्मियों की मौत हो गई थी और 40 तालिबानी आतंकी ढेर हो गए थे। इस झड़प के बाद अफगानिस्तान में वरदक प्रांत के जलरेज (Jalrez) जिले पर तालिबान आतंकियों ने अपना कब्जा कर लिया। इसके अलावा अलग-अलग हवाई हमलों में 40 आतंकी ढेर कर दिए गए

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments