Friday, September 17, 2021
Homeहेल्थकोरोना वायरस में कमजोर फेफड़े ले सकते हैं आपकी जान, ऐसे रखें...

कोरोना वायरस में कमजोर फेफड़े ले सकते हैं आपकी जान, ऐसे रखें मजबूत

कोरोना वायरस में सबसे ज्यादा दिक्कत उन लोगों को है जिन्हें सांस की तकलीफ है या जिनके फेफड़े कमजोर हैं। शोधकर्ताओं के मुताबिक, कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या में वह लोग अधिक शामिल हैं जो किसी सांस की समस्या से जूझ रहे थे या जिनके फेफड़े कमजोर थे। ऐसे में जरूरी है कि आप अपने फेफड़ों को मजबूत करें और अपने-खानपान में कुछ ऐसा जोड़ें जिससे आपके फेफड़े मजबूत होने में मदद मिले।

चलिए जानते हैं कुछ ऐसी चीजों के बारे में जो फेफड़ों को मजबूत करने में आपकी मदद करेंगे। 

अखरोट

अखरोट में ओमेगा-3 फैटी एसिड नाम का एक एसिड आया जाता है जो सांस की दिक्कत और अस्थमा जैसी बीमारियों में फायदा पहुंचाता है। इसके लिए आप अपनी डाइट में रोजाना 1 मुट्ठी अखरोट शामिल कर लें।

सेब

शोधकर्ताओं के मुताबिक, अगर आप स्वस्थ फेफड़े चाहते हैं तो आपको अपनी डाइट में विटामिन सी, ई और बी जरूर शामिल करनी चाहिए। सेब, एंटीऑक्सीडेंट से भरे होते हैं जो आपके फेफड़ों को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। आपको हर दिन 1 सेब जरूर खाना चाहिए।

अदरक

अदरक आपके फेफड़ों को डिटॉक्सीफाई यानी साफ करता है, यह फेफड़ों को प्रदूषण मुक्त करता है। इसलिए कोरोना महामारी में अपने फेफड़ों को मजबूत रखने के लिए आप अदरक का सेवन करें।

पानी

पानी आपके शरीर को डिटॉक्सीफाई करने में मदद करता है। सुष्क फेफड़ों में जलन और सूजन बढ़ने की संभावनाएं अधिक होती हैं, इसलिए जितना हो सकता है उतना पानी पीना चाहिए। स्वस्थ फेफड़ों के लिए अपने आप को हाइड्रेटेड रखना बेहद जरूरी है।

हल्दी

आपके रसोई घर में पाई जाने वाली हल्दी के बहुत सारे फायदे हैं। इसमें से एक- फेफड़ों को मजबूती देने है। हल्दी छाती की जकड़न और अस्थमा से जुड़ी समस्याओं से निजात दिलाती है। आप हर रोज दूध या गर्म पानी के साथ आधा चम्मच हल्दी ले सकते है।

खानपान के अलावा, श्वास व्यायाम करें और जितना हो सकता है उतना प्रदूषण के सम्पर्क में आने से बचें। इसके साथ ही अगर आप दिल्ली जैसे प्रदूषित शहरों में रहते हैं तो बाहर जाते हुए मास्क का उपयोग जरूर करें।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments