Tuesday, September 28, 2021
Homeउत्तर-प्रदेशउत्तर प्रदेश में साप्ताहिक बंदी खत्म, अब रविवार को भी खुलेंगी दुकानें

उत्तर प्रदेश में साप्ताहिक बंदी खत्म, अब रविवार को भी खुलेंगी दुकानें

यूपी में अब एक दिन की साप्ताहिक बंदी को भी हटा दिया गया है। रविवार को भी दुकानें खुलेंगी। शासन ने मास्क की अनिवार्यता, दो गज की दूरी और सेनिटाइजर के प्रयोग की शर्त के साथ सप्ताह में सातों दिनों तक सुबह छह बजे से रात्रि 10 बजे तक गतिविधियों की अनुमति दी है। योगी सरकार ने इस संबंध में दिशा-निर्देश जारी कर दिया है। प्रदेश में कोविड-19 की बेहतर होती स्थिति को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है।

No Lockdown in UP शासन ने मास्क की अनिवार्यता दो गज की दूरी और सेनिटाइजर के प्रयोग की शर्त के साथ सप्ताह में सातों दिनों तक सुबह छह बजे से रात्रि 10 बजे तक गतिविधियों की अनुमति दी है। योगी सरकार ने इस संबंध में दिशा-निर्देश जारी कर दिया।

बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाल ही में टीम-9 की बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिए थे कि स्थिति का आकलन कर साप्ताहिक बंदी में छूट देने पर विचार किया जाए। इस पर अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने विचार के बाद इस संबंध में शासनादेश जारी कर दिया। इसके अनुसार आने वाले शनिवार और रविवार को । इससे पहले 11 अगस्त को जारी शासनादेश में सरकार ने केवल सोमवार से शनिवार तक ही गतिविधियों की छूट दी थी। रविवार को कोरोना कर्फ्यू लागू रखा गया था। मुख्यमंत्री ने गृह विभाग को विस्तृत गाइड लाइन प्रस्तुत करने का निर्देश भी दिया था। मुख्यमंत्री ने यह निर्देश भी दिया कि प्रत्येक स्थान पर और प्रत्येक दशा में कोविड प्रोटोकॉल का पालन कराया जाए। कहीं भी अनावश्यक भीड़भाड़ न हो और पुलिस लगातार पेट्रोलिंग करे।

मालूम हो कि उत्तर प्रदेश के सभी जिलों से व्यापार मंडलों के माध्यम से यह मांग लगातार की जा रही थी कि जब सप्ताह में छह दिन सभी प्रकार की गतिविधियां हो रही हैं तो सिर्फ रविवार के लिए प्रतिबंध क्यों रखे जाएं। इस दौरान व्यापारियों ने हो रहे घाटे से भी सरकार को अवगत कराया था। इस पर मुख्यमंत्री ने सहानुभूति पूर्वक विचार कर फैसला ले लिया। हालांकि, सरकारी सूत्र बताते हैं कि कोविड गाइडलाइन का पालन न करने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments