Thursday, September 16, 2021
Homeलाइफ स्टाइलकिस तरह की कलरिंग बालों को पहुंचाती है नुकसान और कैसे उसके...

किस तरह की कलरिंग बालों को पहुंचाती है नुकसान और कैसे उसके बाद बालों का रखें ख्याल

हां, यह सच है कि हेयर कलर्स में मौजूद अमोनिया, हाइड्रोजन पेरॉक्साइड और अन्य ब्लीचिंग तत्वों के संपर्क में आने पर बालों की लिपिड परत को नुकसान पहुंचता है। नमी या कहें कि प्राकृतिक चमक खोने से बाल रूखे और अधिक उलझे-उलझे रहते हैं। तो कलर कराने के बाद किस तरह से बालों का रखें ख्याल, इसके बारे में आपको पता होना चाहिए।

बालों में ऑम्ब्रे हेयर कलर का तेजी से चलन बढ़ा है। किस तरह से कलरिंग बालों को नुकसान पहुंचा सकती है? और कैसे कलरिंग के बाद बालों का ख्याल रखना है आइए जान लेते हैं जरा इसके बारे में।

कुछ जरूरी टिप्स

– बाल धोने से पहले अपने बालों को केश द्रव्य जैसे आंवला, जटामांसी, भृंगराज, बादाम का तेल, शिकाकाई से कंडिशनिंग जरूर करें।

– अपने बालों को सल्फेट फ्री शैंपू से ही वॉश करें, क्योंकि सिंथेटिक लैदरिंग से स्कैल्प का प्राकृतिक तेल निकल जाता है, जिससे बाल और भी ज्यादा फ्रिजी-फ्रिजी से नजर आते हैं।

– शिरोलेपा (शिरो- सिर और लेप -पेस्ट) बालों को मजबूत करने वाली जड़ी-बूटियां जैसे त्रिफला, करी पत्ते, मेंहदी से बने आयुर्वेदिक हर्बल पेस्ट का इस्तेमाल करें। जो बालों को नमी देता और नुकसान से भी बचाता है। धोने से पहले कम से कम 2 घंटे के लिए इस पेस्ट को अपने स्कैल्प पर लगा रहने दें।

– ध्यान रखें कि बालों को कभी भी गर्म पानी से न धोएं। इससे रोमछिद्र खुल जाते हैं जिसकी वजह से बाल और ज्यादा टूटने लगते हैं। अगर आप ठंडी जगह पर हैं तो पानी को हलका गुनगुना ही रखें।

– बालों को नमी युक्त और मजबूत रखने के लिए सरसों, तिल, सरसों, बादाम, नारियल के तेल से सिर की मालिश करना न भूलें।

– बालों के सिरों को नियमित रूप से ट्रिम करना भी जरूरी है। महीने में एक बार बालों की ट्रिमिंग जरूर करवाएं।

– ओवर स्टाइलिंग से बचें।

– बालों को नियमित रूप से ब्लीच करने और बालों के स्ट्रेंड को कमजोर करने से बचाने के लिए हेयर कलर को लंबे समय तक रखें यानी बार-बार कलरिग करने से बचें

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments