Wednesday, September 22, 2021
Homeराजस्थानशीशमहल कब दिखेगा? :14 साल पहले संरक्षण के नाम पर एंट्री बैन...

शीशमहल कब दिखेगा? :14 साल पहले संरक्षण के नाम पर एंट्री बैन की गई थी, सालभर पहले ही हो चुका काम, फिर भी ताले में बंद

जयपुर . वर्ल्ड हेरिटेज सूची में पहले से शामिल आमेर महल का सबसे खासम-खास और बेहद खूबसूरत एरिया है-शीशमहल। मगर अफसाेस  ये कि 14 साल से ये ताले में बंद है। वजह है- 2006 का एक आदेश। इसमें कहा गया था कि पर्यटकों की ज्यादा आवाजाही से यहां करीने से किए गए शीशे के काम खराब हो रहे हैं। इन्हें संरक्षित करने तक बंद कर दिया जाए। आखिरकार पौने 2 करोड़ के प्रोजेक्ट से अब शीशमहल की आभा लौट चुकी है।

शीशों की कारीगरी दिखाती है दिन में तारे

गाइड, ट्रैवल एजेंट और टूरिज्म इंडस्ट्री से जुड़े लोगों का कहना है कि महल के सबसे खूबसूरत हिस्से को देखना पर्यटकों का हक है। आखिरकार पावणे यहां के हेरिटेज वैभव को ही तो देखने आते हैं। खासकर राजा के निवास वाले इस आलीशान वैभव को देखकर तो वो हमारी शान में कसीदे गढ़ेंगे। कभी टूरिस्ट को यहां एक कमरे में मोमबत्ती जलाने तक शीशों से तारों का आभास कराते थे।

इसलिए हुआ था बंद

30 अगस्त 2005 को उच्च स्तरीय सदस्यों ने राज्यमंत्री संग दौरा किया। शीशमहल का जर्जर हाल देख मौखिक आदेश पर आधा अधूरा बंद कर दिया। 2 मार्च 2006 को आमेर महल अधीक्षक ने संरक्षण कार्य होने तक बंद करने की अनुमति चाही। 4 मार्च 2006 को निदेशक संदीप वर्मा ने आदेश दे दिए।

मांग- तुरंत खोलें, जिम्मेदार बोले- जल्द फैसला लेंगे

^इस बारे में जानकारी मांगी गई है। जल्दी ही सभी स्थितियां जानकर हम फैसला लेंगे। -श्रेया गुहा, प्रमुख सचिव, कला-संस्कृति

^जल्द ही शीश-महल का विजिट करके इस बारे में फैसला करेंगे। -मेघराज सिंह रत्नू, निदेशक, पुरातत्व विभाग

^शीशमहल को कामकाज के चलते बंद किया था। अब काम पूरा हो चुका है। फिलहाल इसे बारी-बारी से संयमित लोगों की आवाजाही के साथ खोला जा सकता है। इस बारे में उच्च स्तर पर निर्णय लिया जाना है। -पंकज धीरेंद्र, अधीक्षक, आमेर महल

^इस बारे में हमने बात रखी है। राज्य सरकार को भी लिखकर मांग करेंगे, ताकि देश-दुनिया से आने वाले टूरिस्ट यहां से और बेहतर यादें लेकर लौटे। -कुलदीप सिंह, प्रेसिडेंट, राजस्थान एसोसिएशन ऑफ टूर ऑपरेटर्स

^हम चाहते हैं कि पूरी सिक्योरिटी और नियमित प्रवेश के साथ भले ही अलग से शुल्क लेकर शीशमहल को खोल दिया जाए। ये सबसे खूबसूरत जगह है। च्वॉइस के साथ लोग जाएंगे तो दोनों का फायदा होगा। -नरेंद्र राठौड़, प्रेसिडेंट, टूरिस्ट गाइड फेडरेशन

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments