Tuesday, September 28, 2021
Homeलाइफ स्टाइलप्रेग्नेंसी में क्यों दी जाती है केसर खाने की सलाह? इसके 5...

प्रेग्नेंसी में क्यों दी जाती है केसर खाने की सलाह? इसके 5 फायदे ज़रूर जान लें

इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि यह आप पहली बार प्रेग्नेंट हुई हैं, दूसरी या फिर तीसरी बार, यह हर एक महिला के जीवन में सबसे खुशी का समय होता है। यह एक ऐसी भावना है जिसे शब्दों में वर्णित नहीं किया जा सकता है। इसमें कोई शक़ नहीं कि मां बनना एक जीवन बदलने वाला अनुभव होता है, लेकिन इसके साथ बड़ी जिम्मेदारियां भी आती हैं।

जब कोई महिला प्रेग्नेंट होती है तो उसे अपनी सेहत के साथ बच्चे की सेहत का भी ख्याल रखना होता है। संतुलित अहार अच्छी लाइफस्टाइल और खुश रहने की कोशिश करना सबसे ज़रूरी काम होते हैं।

जब कोई महिला प्रेग्नेंट होती है, तो उसे अपनी सेहत के साथ बच्चे की सेहत का भी ख्याल रखना होता है। संतुलित अहार, अच्छी लाइफस्टाइल और खुश रहने की कोशिश करना सबसे ज़रूरी काम होते हैं। हालांकि, इन सबके अलावा इस दौरान केसर के सेवन पर ज़ोर दिया जाता है। यह एक ऐसा मसाला है, जो प्रेग्नेंसी के दौरान आपकी कई तरह से मदद कर सकता है।

आइए जानें प्रेग्नेंसी में केसर के फायदे

बदलते मूड को मैनेज करता है

इन 9 महीनों के दौरान महिलाओं का मूड स्विंग सबसे आम समस्या होती है। इसके पीछे कई तरह के कारण होते हैं, जैसे कि तेज़ी से हार्मोन्स में बदलाव आना या गर्भावस्था के दौरान दूसरी शारीरिक परेशानियां होना। कुछ ऐसे पल होते हैं, जब आप दुनिया में सबसे ख़ुश महसूस करते हैं, वहीं दूसरे ही पल, आप अपने आपको बिस्तर के एक कोने में रोता हुआ पाएंगी। यह मूड स्विंग्ज़ आपको जल्दी गुस्सा दिलाते हैं और चिड़चिड़ाहट महसूस करवाते हैं। ऐसे में केसर आपके बड़े काम आ सकता है, क्योंकि ये सेरोटोनिन का उत्पादन करता है। यह आपके शरीर में रक्त के प्रवाह को बढ़ाकर आपके मूड को नियंत्रित करता है।

अच्छी नींद सुलाता है

प्रग्नेंसी के दौरान होने वाले सभी तरह के शारीरिक दिक्कतों का असर आपकी नींद पर भी पड़ता है। आपकी पूरी रात सिर्फ करवटें बदलने में बर्बाद होती है, जबकि इस समस्या के लिए उपाय सिर्फ एक कप केसर दूध है। यह बेचैनी को शांत करता है और आपको अच्छा महसूस कराता है, जिससे आपको नींद भी अच्छी आ जाती है।

ऐंठन से राहत दिलाता है

गर्भावस्था के दौरान हार्मोनल परिवर्तनों के कारण ऐंठन काफी होती है। कई बार ये हल्के और सहने योग्य होते हैं और कई बार गंभीर और असहनीय हो सकते हैं। इनका बचाव आसानी से किया जा सकता है। केसर एक ऐसी चीज़ है जो दर्द को दूर करने के लिए दर्द निवारक का काम करता है और आपके शरीर की सभी मांसपेशियों को शांत करता है।

हाई ब्लड प्रेशर को कम करता है

गर्भावस्था रक्तचाप के स्तर को प्रभावित करती है क्योंकि इस दौरान रक्त संचार आमतौर पर बढ़ जाता है। अगर केसर को ठीक-ठाक मात्रा में लिया जाए, तो यह आपके रक्तचाप को काफी कम कर देता है। हाई ब्लड प्रेशर की वजह से हाइपरटेंशन की समस्या हो जाती है, जो इन 9 महीनों में एक आम समस्या है। केसर आपको इस दिक्कत से बचा सकता है।

दिल के काम को बढ़ावा देता है

गर्भावस्था के दौरान जंक फूड खाने की इच्छा निश्चित रूप से आपके कैलोरी सेवन को बढ़ाती है, जो बदले में आपके कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाती है और हृदय स्वास्थ्य को प्रभावित करती है। केसर कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है। इस तरह यह आपके और आपके होने वाले बच्चे के हृदय स्वास्थ्य की रक्षा करता है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments