Sunday, September 19, 2021
Homeछत्तीसगढ़पिकनिक हादसा : परिजन की मांग- जब तक टीचर गिरफ्तार नहीं होंगे,...

पिकनिक हादसा : परिजन की मांग- जब तक टीचर गिरफ्तार नहीं होंगे, तब तक बच्चों का अंतिम संस्कार नहीं करेंगे

रायपुर. भारत माता स्कूल की पिकनिक ट्रिप के दौरान शनिवार को हादसे में दो बच्चों की मौत के बाद टाटीबंध इलाके में हालात तनावपूर्ण हैं। परिजन आरोपी शिक्षकों की गिरफ्तार की मांग पर अड़े हैं। उनका कहना है कि जब तक टीचर नहीं पकड़े जाते, तब तक वह बच्चों का अंतिम संस्कार नहीं करेंगे। रविवार को परिजन सड़कों पर उतर आए। परिजन स्कूल प्रबंधन से 50-50 लाख रुपए मुआवजे की मांग भी कर रहे हैं।


 

पिता ने पूछा- जवाबदारी नहीं ले सकते तो हमारे बच्चों को क्यों लेकर गए

स्कूल से बच्चों की ट्रिप महासमुंद के सिरपुर गई थी। वहां नदी में डूबने की वजह से अमन और खुशदीप नाम के दो छात्रों की मौत हो गई थी। स्कूल के जिस बच्चे के परिजन को घटना की जानकारी मिली, वे सभी गेट के सामने आकर बैठ गए। बच्चों के शव वाली एंबुलेंस पहुंचते ही उनका गुस्सा फट पड़ा। शव वाहन को स्कूल गेट के सामने खड़ा कर भीड़ ने चक्का जाम कर दिया। स्कूल प्रबंधन और बच्चों को अपनी जिम्मेदारी पर पिकनिक पर ले जाने वाले शिक्षकों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर सड़क पर बैठ गए। अमन के पिता जिम्मेदारों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। इधर, खुशदीप के पिता सुरजीत सिंह महाराष्ट्र में थे। उन्हें बाद में घटना की जानकारी मिली। निसंतान होने के कारण उन्होंने खुशदीप को गोद लिया था।

एक पल को लगा सब ठीक हो जाएगा 

चौकी प्रभारी एनके दुबे ने बताया कि घटना की खबर मिलते ही वह स्टाफ के साथ पहुंचे। स्कूल वालों ने बताया कि बच्चे गुम हो गए हैं। काफी देर तक खोजने की कोशिश की गई। मुझे यह बात समझ नहीं आई मैंने बच्चों से बार-बार पूछना शुरू किया, कि आखिर वो कहां मिस हुए ? तब प्रवीण नाम का एक बच्चा मेरे पास आया। उसने बताया कि सर…हम कुछ फ्रेंडस नदी में नहा रहे थे तभी वो डूब गए। मैंने बच्चे से पूछा कि वो प्वाइंट बताओ जहां वो डूबे। तब उसने इशारा किया… उसी क्षण तीन जवानों ने पानी में छलांग मार दी। 10 मिनट के भीतर जवानों ने दोनों बच्चों को बाहर निकाल लिया। उनका शरीर गर्म था, उनमें हरकत महसूस हुई। पेट को दबाकर पानी निकाला गया, पानी शरीर से बाहर आया तो लगा बच्चे आंखें खोलेंगे, बिना समय गंवाए हमनें उन्हें हॉस्पीटल रवाना किया। थोड़ी देर में ही दुखद खबर आ गई।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments