Monday, September 27, 2021
Homeचंडीगढ़चंडीगढ़ में महिला तस्कर को हुई 10 साल की सजा:200 ग्राम हेरोइन...

चंडीगढ़ में महिला तस्कर को हुई 10 साल की सजा:200 ग्राम हेरोइन और 15 इंजेक्शन के साथ पकड़ी गई

200 ग्राम हेरोइन और 15 नशीले इंजेक्शन के साथ गिरफ्तार हुई महिला तस्कर निर्मला उर्फ निम्मो को डिस्ट्रिक्ट कोर्ट ने 10 साल की सजा सुनाई है। एडिशनल डिस्ट्रिक्ट एंड सेशंस जज डॉ. रजनीश की कोर्ट ने आरोपी महिला पर ढाई लाख रुपए जुर्माना भी लगाया है। निर्मला को मलोया पुलिस ने जुलाई 2018 को गिरफ्तार किया था। उस पर पुलिस ने नारकोटिक्स ड्रग्स एंड साइको ट्रॉपिक सबस्टांस (NDPS) एक्ट के तहत केस दर्ज किया था। उस पर लगे आरोप कोर्ट में साबित हो गए और जज ने उसके खिलाफ फैसला सुना दिया।निर्मला को मलोया पुलिस ने जुलाई 2018 को गिरफ्तार किया था। उस पर लगे आरोप कोर्ट में साबित हो गए। 

केस के मुताबिक पुलिस को सीक्रेट इन्फॉर्मर ने बताया था कि निर्मला नाम की महिला चंडीगढ़ में हेरोइन बेच रही है और वह 23 जुलाई 2018 को डड्‌डूमाजरा से सेक्टर-40 की तरफ एक्टिवा से जाएगी। पुलिस ने सेक्टर-38वेस्ट के पेट्रोल पंप के पास नाका लगा लिया और आने-जाने वाली गाड़ियों की चेकिंग शुरू कर दी। इसी दौरान पुलिस को एक एक्टिवा सवार महिला आती दिखी। लेकिन पुलिस को देखकर उसने अपना रास्ता बदल लिया और वह सेक्टर-40 की ओर मुड़ गई। पुलिस ने उसका पीछा किया और उसे सेक्टर-40 में ही रोक लिया। उसके पास एक काले रंग का बैग था। पुलिस ने उससे पूछताछ शुरू कर दी। पुलिस ने उसकी तलाशी ली तो 200 ग्राम हेरोइन और 15 इंजेक्शन बरामद हुए। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर उसके खिलाफ केस दर्ज कर लिया।

जज ने कहा- नशाखोरी से उजड़ रहे हैं परिवार

जज ने अपने फैसले में कहा कि समाज में नशाखोरी काफी बढ़ती जा रही है। इससे कई परिवार उजड़ रहे हैं। नशे का आदी हो चुका इंसान अच्छे और बुरे में फर्क समझ नहीं पाता और इस कारण वह आपराधिक गतिविधियों में शामिल हो जाता हैं। इसलिए ये समय की जरूरत है कि नशे के कारोबार पर लगाम लगाई जा सके।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments