वर्ल्ड कप : अहम मौकों पर विकेट गंवाने से हारे, हमारे बल्लेबाज तेजी से रन बनाने में नाकाम रहे: कोहली

0
79

बर्मिंघम. वर्ल्ड कप में टीम इंडिया को पहली बार रविवार को इंग्लैंड के खिलाफ मिली। इस पर कप्तान विराट कोहली ने कहा कि टीम फ्लैट पिच पर अच्छी बल्लेबाजी नहीं कर सकी। लक्ष्य का पीछा करते हुए हमारे बल्लेबाज तेज गति से रन बनाने में नाकाम रहे। विराट ने कहा कि अगर हम अहम मौकों पर विकेट न गंवाते तो नतीजे कुछ और हो सकते थे।

विराट ने कहा, “इंग्लैंड के गेंदबाजों ने शानदार गेंदबाजी की। लेकिन जिस वक्त पंत और पंड्या क्रीज पर थे, तब हमारे पास शानदार मौका था। पंत-पंड्या कुछ शॉट्स लगाकर हमें टारगेट के करीब पहुंचा सकते थे और उनके (इंग्लैंड के) ड्रेसिंग रूम में खलबली पैदा कर सकते थे। लेकिन हमने गलत समय पर विकेट गंवा दिए और बड़े लक्ष्य का पीछा करने के दौरान यह काफी परेशानी पैदा करता है।”

‘बाउंड्री लगाने में धोनी ने की मेहनत’

महेंद्र सिंह धोनी की बल्लेबाजी के बारे में पूछे जाने पर विराट ने कहा, “मुझे लगता है कि उन्होंने बाउंड्री हासिल करने के लिए असल में कड़ी मेहनत की। लेकिन स्थितियां अनुकूल नहीं थीं। विपक्षी टीम ने सही लेंथ पर गेंदबाजी की और गेंद थोड़ा रुक कर आ रही थी। इसलिए आखिर में बल्लेबाजी मुश्किल होती चली गई। अब हमें अगले मैच के बारे में सोचना होगा और गलतियों को सुधारना होगा।”

छोटी पिच में स्पिनर्स के लिए ज्यादा मौके नही थे

गेंदबाजों का बचाव करते हुए कोहली ने कहा कि बर्मिंघम में बाउंड्री महज 59 मीटर की थी, जो कि अंतरराष्ट्रीय मैच में न्यूनतम है। साथ ही विकेट भी फ्लैट रखा गया। ऐसे में बल्लेबाज रिवर्स स्वीप से ही छक्का मारने की काबिलियत रखते थे और इन स्थितियों में स्पिनर्स ज्यादा कुछ नहीं कर सकते थे। वे सिर्फ अपनी लाइन को लेकर स्मार्ट हो सकते थे। एक समय इंग्लैंड 360 के स्कोर की तरफ जाता लग रहा था, लेकिन हमने उन्हें रोक लिया। अगर उनके स्कोर में 10-15 रन और कम होते तो बेहतर होता। लेकिन हम उन्हें 337 पर रोककर भी खुश थे। बेन स्टोक्स ने बेहतरीन पारी खेली।

भारतीय स्पिनर्स को पिटते देखना शानदार रहा: माॅर्गन

वहीं, इंग्लैंड के कप्तान इयॉन मॉर्गन ने कहा कि टीम के लिए दिन काफी अच्छा था। टॉस जीतकर बल्लेबाजी चुनना आसान फैसला था। जेसन रॉय के वापस आने से टीम को मजबूती मिली। बेयरस्टो का शतक शानदार रहा। लगातार बनती साझेदारियों से हम बड़े स्कोर तक पहुंचने में सफल रहे। भारतीय स्पिनर्स के खिलाफ बल्लेबाजी पर मॉर्गन ने कहा, “कुलदीप और चहल हमारे लिए बड़ा खतरा हैं, लेकिन कल उनके पिटते देखना अच्छा लगा। हम इसी तरह खेलते हैं। पारी के आगे बढ़ते-बढ़ते बल्लेबाजी मुश्किल होती चली गई और हमें यह पता था

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here