Sunday, September 19, 2021
Homeहेल्थमोटापे की वजह से बन सकते हैं आप डिमेंशिया के शिकार, बचने...

मोटापे की वजह से बन सकते हैं आप डिमेंशिया के शिकार, बचने के लिए इन 5 नेचुरल तरह से करें वजन कम

डिमेंशिया को लेकर अक्सर कहा जाता है कि विशेष रूप से यह रोग बुजुर्गों को प्रभावित करता है। इस बीमारी में मरीज की याद्दाश्त कमजोर हो जाती है जिसका असर व्यक्ति के मानसिक कार्यों पर भी पड़ने लगता है। लेकिन, क्या  आप जानते हैं यह रोग सिर्फ बुजुर्गों को ही नहीं बल्कि मोटे लोगों को भी अपना शिकार बना सकता है। जी हां हाल ही में हुआ एक अध्ययन तो ऐसा ही कुछ खुलासा कर रहा है। आइए जानते हैं आखिर क्या है डिमेंशिया, इसके लक्षण और बचने के लिए कैसे कर सकते हैं कम अपना वजन।

क्या है डिमेंशिया-
डिमेंशिया किसी एक बीमारी का नाम नहीं है बल्कि ये एकसाथ दिखाई देने वाले कई लक्षणों के समूह का नाम है। यह रोग मस्तिष्क की हानि से सम्बंधित हैं। इससे पीड़ित व्यक्ति अपनी रोजमर्रा की गतिविधियों को पूरा करने के लिए दूसरों पर निर्भर हो जाता है। दरअसल, डिमेंशिया एक ऐसी बीमारी है, जिसमें रोगी की याद रखने की क्षमता धीरे-धीरे कम होने लगती है। डिमेंशिया रोग में रोगी खुद से जुड़ी छोटी से छोटी बात को भी भूलने लगता है।

मोटापे से कैसे जुड़ा है डिमेंशिया-
जर्नल न्यूरोलॉजी में प्रकाशित एक अध्ययन में 1935 से 1950 के बीच ब्रिटेन में पैदा होने वाली हर चार महिलाओं में से एक या लगभग 1,137,000 महिलाओं को शामिल किया गया था। इस अध्ययन को करने वाले शोधकर्ताओं ने पाया कि शुरुआत में जो महिलाएं मोटापे से ग्रस्त थीं, उनमें आगे चलकर वांछनीय बीएमआई वाली महिलाओं की तुलना में डिमेंशिया का खतरा 21 प्रतिशत अधिक था।

अध्ययन में शामिल 177,991 महिलाओं में से मोटापे से ग्रस्त 2.1 प्रतिशत या 3,948 महिलाएं डिमेंशिया का शिकार पाई गई।अध्ययन में डिमेंशिया को मोटापे से जोड़ा गया। इस अध्ययन को करने वाले शोधकर्ताओं ने माना अगर समय रहते मोटापे को कंट्रोल कर लिया जाए तो आसानी से डिमेंशिया के खतरे को भी कम किया जा सकता है। आइए जानते हैं क्या हैं डिमेंशिया के लक्षण और वजन कम करने के आसान तरीके।

डिमेंशिया के लक्षण-
– चीजों को भूलना।
– सोचने-समझने में मुश्किल होना।
– खासतौर पर शाम के समय मानसिक रूप से भ्रमित होना।
– एकाग्रता में कमी, नई चीजें सीखने की क्षमता में कमी।
– लोगों को पहचानने में मुश्किल होना।

वजन कम करने के उपाय-
1- संतुलित आहार लें-
वजन कम करने का मतलब यह बिल्कुल भी नहीं है कि आप डाइटिंग करें। आपको अपनी डाइट में हर तरह के बोजन को शामिल करना चाहिए। इस भोजन में फैट, कार्ब, प्रोटीन और फाइबर सब चीजें प्यार्प्त मात्रा में शामिल होनी चाहिए। याद रखें आपका वजन हेल्दी फूड नहीं बल्कि प्रोसेस्ड, पैकेज्ड, जंक, डीप-फ्राइड फूड और अधिक मीठी चीजें बढ़ाती हैं।

2-भोजन में प्रोटीन शामिल करें-
प्रोटीन मांसपेशियों के निर्माण में मदद करता है, जो हेल्दी तरीके से वजन कम करने में सहायक है। आहार में प्रोटीन शामिल करने के लिए डाइट में अंडे, दूध, डेयरी उत्पाद, नट व बीज, सोया और सोया उत्पाद,  मछली व समुद्री भोजन और चिकन को शामिल करें। ये सभी प्रोटीन के अच्छे स्रोत हैं।

3-व्हाइट शुगर से बचें-
रिफाइनड शुगर कैलोरी घटाने के अलावा कुछ नहीं करती। शुगर की तलब पर अंकुश लगाने के लिए खजूर, शहद, नारियल चीनी, गन्ना और गुड़ जैसे स्वस्थ शुगर विकल्पों का चुनाव करें।

4-नियमित व्यायाम- 
रोजाना अपने वर्कआउट रूटीन में कार्डियो, वेट ट्रेनिंग, स्ट्रेंथ ट्रेनिंग एक्सरसाइज को शामिल करें। याद रखें कार्डियो कैलोरी बर्न करने में मदद करती हैं, जबिक वेट ट्रेनिंग और स्ट्रेंथ ट्रेंनिंग एक्सरसाइज शरीर के खराब फैट को कम करके मांसपेशियों को मजबूत बनाने का काम करती है।

5-अच्छी नींद लें-
तनाव कम करने के साथ रात की अच्छी नींद भी आपके वजन घटाने में आपकी मदद करती है। ये दोनों ही चीजें अच्छे स्वास्थ्य के साथ हार्मोनल संतुलन को बनाए रखने के लिए भी बेहद जरूरी हैं। नींद की कमी भूख और आपको अधिक खाने के लिए प्रेरित कर सकती है। यही वजह है कि विशेषज्ञ भी वजन घटाने के लिए कम से कम 7 से 8 घंटे अच्छी नींद लेने के लिए कहते हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments